Breaking News
Top

चाइल्ड पॉर्नोग्राफी पर सुप्रीम कोर्ट सख्त, केंद्र सरकार अब ऐसे कसेगी लगाम

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Oct 27 2017 1:54PM IST
चाइल्ड पॉर्नोग्राफी पर सुप्रीम कोर्ट सख्त, केंद्र सरकार अब ऐसे कसेगी लगाम

केंद्र सरकार तमाम कोशिशों के बावजूद भी चाइल्ड पॉर्नोग्राफी पर रोक नहीं लगा पाई है। सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले पर सख्ती से केंद्र सरकार को आदेश जारी किया है।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि केंद्र सरकार चाइल्ड पॉर्नोग्राफी और रेप विडियोज के प्रसार को रोकने के लिए ऑनलाइन पोर्टल बनाए और हॉटलाइन नंबर जारी करे। जिससे जरिए कोई भी व्यक्ति अपना नाम गुप्त रखकर ऐसे वीडियोज को अपलोड करने वाले लोगों की शिकायत दर्ज करा सके।

इसे भी पढ़ें- सिनेमाघरों में राष्ट्रगान बजाने को लेकर SC ने कहा- कानून में संशोधन करे केंद्र

यूयू ललित और जस्टिस मदन बी लोकुर की बेंच ने कोर्ट के द्वारा नियुक्त समिति के इस सुझाव को स्वीकार किए हैं। इस समिति में माइक्रोसॉफ्ट, फेसबुक, गूगल, याहू और के साथ ही केंद्र का भी रिप्रेजेंटेशन था। कोर्ट ने समिति के सुझाव को केंद्र को जल्द से जल्द लागू करने के निर्देष दिए हैं।

इलेक्ट्रॉनिक्स ऐंड इन्फर्मेशन टेक्नॉलजी मिनिस्ट्री के इस समिति ने 11 सुझाव दिए हैं जिससे चाइल्ड पॉर्नोग्राफी और रेप के वीडियोज को इंटरनेट से अपलोड और शेयर करने से रोका जा सकेगा।

इसे भी पढ़ें- आरुषि हत्याकांड: हेमराज की पत्नी जाएगी सुप्रीम कोर्ट, काठमांडू से बताई वजह

समिति के इन सुझावों के मुताबिक, केंद्र को सिविल सोसायटी ऑर्गनाइजेशन्स और ऑनलाइन सर्च इंजन के साथ मिलकर काम करना चाहिए साथ ही कीवर्ड्स ढूढ़कर उन साइट्स को ब्लॉक करना चाहिए जिससे लोग अश्लील वीडियोज को सर्च करने में असमर्थ रहे। समिति के इन सुझावों को लागू करने के संबंध में सुप्रीम कोर्ट ने 11 दिसंबर को केंद्र को स्टेटस रिपोर्ट दायर के लिए कहा है। 

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
supreme court ordered centre govt make portal and hotline number for child pornography

-Tags:#Supreme Court#Child Pornography#Crime News
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo