रायपुर

सरकार की इस योजना को मानकर 'मुसीबत' में फंसा ये परिवार

By haribhoomi.com | Feb 17, 2017 |
raipur
रायपुर. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा 'स्वच्छ भारत अभियान' की शुरूआत 2 अक्टूबर 2014 को की गई। इसके तहत गांव में टॉयलेट बनवाने वाले परिवार को सरकार 12 हजार रुपये देने की बात कही थी। लेकिन यही टॉयलेट छत्तीसगढ़ के अंडी गांव के एक परिवार के लिए आफत बन गई है।  
 
आपको बता दें कि आंडी गांव के कुछ लोगों ने 5 फीसदी के ब्याज पर कर्ज लेकर टॉयलेट बनाया था। लेकिन सरकार की ओर से दी जाने वाली पैसे अभी तक गांव वालों को मिले नहीं। जिसके बाद कर्ज के भार ने इन लोगों को काम की तलाश में शहर की ओर रुख करने को विवश कर दिया। 
 
 
बता दें कि लोगों को शहर में पैसे तो मिले नहीं लेकिन उल्टे उनलोगों को कैद कर लिया गया। अब पीड़ित परिवार के लोग अपनो को वापस लाने के खातिर दर-दर भटकने पर विवश हैं। 
 
अंग्रेजी न्यूज पेपर इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के मुताबिक, 52 वर्षीय भागीरथी खांडे का बेटा, बहू अपनी 18 महीने की बेटी को लेकर नवंबर महीने में काम की तलाश में उत्तरप्रदेश की देवरिया पहुंचे। यहां ये लोग ईंट भट्टों पर काम करने लगे, लेकिन धीरे-धीरे परिस्थितियां बदलने लगी और दो महीने पहले भागीरथी खांडे का बेटा ने पहली बार फोन किया और लोगों से मदद की गुहार लगाई। उन्होंने बताया कि यहां उन्हें कैद कर लिया गया है और जान से भी मारने की धमकी दें रहे हैं। 
 
बता दें कि छत्तीसगढ़ के इन इलाकों से पलायन करना आम बात हो गई है। यहां के एक स्थानीय समाजिक कार्यकर्ता पुष्पेंद्र खुंटे ने बताय कि खुले में शौच करने गई एक महिला की अधिकारियों ने तस्वीर खींच ली थी और फिर उसे अधिकारियों ने सार्वजनिक रूप से जारी कर दिया था, जिसके बाद इलाके में अधिकारियों के खिलाफ रोष का महौल था। 
 
 
वहीं भागीरथी खांडे ने बताया कि सरकार ने कहा था कि उसे टॉयलेट बनवाने पर 12 हजार रुपये मिलेंगे। कहा कि मैंने 18000 रुपये से टॉयलेट तैयार करवाया था लेकिन पैसे नहीं मिले। उन्होंने कहा कि अंडी गांव में अभी तक एक भी व्यक्ति को पैसे नहीं दिया गया है सरकार की तरफ से। इस मामले पर एक अधिकारी ने नाम ना छापने के शर्त पर कहा कि सरकार काम शुरू होने से पहले पैसा नहीं देती। कहा कि केंद्र से पैसा पंचायत स्तर तक पहुंचने की रफ्तार काफी धीमी है जिससे लोगों के कर्ज बढ़ रहे हैं।
 
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
  • Post a comment
  • Name *
  • Email address *

  • Comments *
  • Security Code *
  • NTJEK
  •       
    कमेंट्स कैसे लिखें !
    जिन पाठकों को हिन्दी में टाइप करना आता है, वे युनीकोड मंगल फोंट एक्टिव कर हिन्दी में सीधे टाइप कर सकते हैं। जिन्हें हिन्दी में टाइप करना नहीं आता वे Roman Hindi यानी कीबोर्ड के अंग्रेजी अक्षरों की मदद से भी हिन्दी में टाइप कर सकते हैं। उदाहरण के लिए यदि आप लिखना चाहें- “भारत डिफेंस कवच एक उपयोगी पोर्टल है’, तो अंग्रेजी कीबोर्ड से टाइप करें, bharat defence kavach ek upyogi portal hai. हर शब्द के बाद स्पेस बार दबाएंगे तो अंग्रेजी का अक्षर हिन्दी में टाइप होता चला जाएगा। यदि आप अंग्रेजी में अपने विचार टाइप करना चाहें तो वह विकल्प भी है।

    स्‍थानीय खबरें

    Haribhoomi
    Haribhoomi on Social Media
    'Trapped' हुए राजकुमार, महीनों तक रहे कमरे में बंद, खाए कीड़े-मकोड़े

    'Trapped' हुए राजकुमार, महीनों तक रहे ...

    राजकुमार की अपकमिंग फिल्म ‘ट्रैप्ड’ का ट्रेलर रिलीज हो गया है।

    इस फिल्म में फिर नजर आएगी आमिर की दंगल वाली 'बेटी'

    इस फिल्म में फिर नजर आएगी आमिर की दंगल ...

    फातिमा ने फिल्म ''दंगल'' में आमिर खान की बेटी का निभाया किरदार है।

    रणवीर सिंह का बेतुका फैशन, किसी ने कहा 'मच्छरदानी' तो किसी ने बताया 'कंडोम'

    रणवीर सिंह का बेतुका फैशन, किसी ने कहा ...

    रणवीर ने एक स्किन फिट ड्रेस पहनी तो लोगों ने उन्हें ''कंडोम'' कह दिया।