Top

रोहिंग्या मुसलमानों को रोकने लिए म्यांमार ले रहा है लैंडमाइंस का सहारा

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Sep 21 2017 12:14PM IST
रोहिंग्या मुसलमानों को रोकने लिए म्यांमार ले रहा है लैंडमाइंस का सहारा
रोहिंग्या मुसलमानों का मुद्दा अब दुनियाभर में सुर्खियां बटौर रहा है। इनके पुनर्वास के साथ सियासत भी गर्म हो गई है। इस बीच बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने न्यू यॉर्क में संयुक्त राष्ट्र महासभा की बैठक में म्यांमार पर बड़ा हमला बोला है। 

हसीना ने कहा है कि म्यांमार रोहिंग्या मुसलमानों को वापस लेने में तरह-तरह के रोड़े अटका रहा है। यहां तक की उसने अपनी सीमा पर लैंडमाइंस तक बिछा दी हैं। लेकिन हम साफ कर देना चाहते हैं कि म्यांमार को रोहिंग्या मुसलमानों के साथ न्याय करते हुए वापस लेना होगा। 
 
बांग्लादेशी पीएम ने कहा, 'म्यांमार सरकार से हम लगातार गुजारिश कर रहे हैं कि वो बांग्लादेश में आए अपने 4,20,000 रोहिंग्या मुस्लिमों को वापस बुला ले। लेकिन, इस ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। इसके विपरीत म्यांमार की सेना सीमा पर लैंडमाइंस बिछा रही है। ऐसा इसलिए हो रहा है कि पलायन कर गए रोहिंग्या लौट न सकें।'
 

तस्लीमा नसरीन भी रोहिंग्या के हक में

इस बीच मशहूर लेखिका तस्लीमा नसरीन भी रोहिंग्या मुस्लिमों के हक में आ गई हैं। एक न्यूज चैनल को दिए साक्षात्कार में नसरीन ने कहा है कि जब रोहिंग्या मुस्लिमों को बांग्लादेश शरण दे सकता है तो भारत को भी ऐसा ही करना चाहिए। बता दें कि नसरीन बांग्लादेश की विवादित लेखिका हैं और कट्टरपंथियों की धमकियों के बाद से भारत में रह रही हैं।
 
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
sheikh hasina allages myanmar stopping rohingya muslims by using landmines at boders

-Tags:#Sheikh Hasina#Myanmar#Rohingya Muslims#Bangladesh#UN#Taslima Nasreen
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo