Breaking News
महाराष्ट्रः पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों पर CM देवेंद्र फडणवीस ने दिया बड़ा संकेत, ये है GST लागू होने पर नुकसानप्रतिनिधिमंडल के साथ दो दिवसीय दौरे पर भारत पहुंचे नीदरलैंड के PM मार्क रुट, पीएम मोदी के साथ करेंगे बैठकPM मोदी ने क्रिकेटर विराट कोहली का फिटनेस चैलेंज किया स्वीकार, लिखा- चैलेंज स्वीकार जल्द शेयर करुंगा वीडियोपेट्रोल-डीजल के दामों में 11वें दिन भी जारी बढ़ोत्तरी, पेट्रोल 30 पैसा और डीजल 19 पैसा हुआ मंहगा10वीं दिन भी पाक की तरफ से सीजफायर का उल्लंघन, नौशेरा सेक्टर में 1 घायललगातार हार से कांग्रेस में फंड का टोटा, AICC ने प्रदेश कमेटी के ऑफिस का खर्चा-पानी बंद कियाझारखंड को मिलेगी 27000 करोड़ की सौगात, 25 मई को पीएम मोदी करेंगे शिलान्यासRSS का राहुल गांधी पर तीखा हमला, कहा- खोई जमीन वापस पाने के लिए समाज को बांटने की कोशिश
Top

जामा मस्जिद के शाही इमाम बोले, बकरीद पर गोरक्षा के नाम पर मुस्लिमों को मारा गया तो होंगे बुरे परिणाम

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Jul 15 2017 11:48AM IST
जामा मस्जिद के शाही इमाम बोले, बकरीद पर गोरक्षा के नाम पर मुस्लिमों को मारा गया तो होंगे बुरे परिणाम

देश की सबसे बड़ी मस्जिद जामा मस्जिद के शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी ने केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह को पत्र लिखा है। बुखारी ने लिखा है कि ईद-उल-अजहा यानी बकरीद पर मुस्लिमों की सुरक्षा सुनिश्चित की जाए। 

बुखारी ने लिखा है कि बकरीद पर ने लिखा है कि सरकार यह सुनिश्चित कराए कि बकरीद के मौके पर जानवरों की कुर्बानी देना मुस्लिम धर्म की परंपरा रही है और इसमें किसी तरह का व्यवधान नहीं आना चाहिए। 

इसे भी पढ़ेंः गोरक्षा के नाम पर हिंसा, 3 साल में अबतक 23 मुस्लिमों की हत्या

बुखारी ने लिखा है कि जब हमलोग किसी के धार्मिक आयोजन में व्यवधान नहीं खड़ा करते तो मुस्लिमों को भी उनकी धार्मिक परंपराओं या रीति-रिवाजों के निर्वहन में किसी को बाधा नहीं डालना चाहिए।

उन्होंने मांग की है कि भैंसों और बकरियों को ढोने वाले लोगों पर किसी भी प्रकार का कोई हमला ना हो। साथ ही उन्होंने लिखा है, “हमलोग गौकशी के समर्थक नहीं हैं। गाय के साथ किसी धर्म विशेष के लोगों की भावनाएं जुड़ी हैं। इसलिए हम भी उनकी भावनाओं का सम्मान करते हैं लेकिन जो लोग बकरियों या भैंसों की ढुलाई में लगे हैं और उन्हें जानवरों की रक्षा के नाम पर मारी-पीटा गया तो देश में शांति-सद्भाव का माहौल बिगड़ सकता है।”

इसे भी पढ़ेंः गोरक्षा के नाम पर कानून हाथ में लेने वालों की खैर नहीं : योगी आदित्यनाथ

बुखारी ने इस डर से यह पत्र लिखा है क्योंकि देश में लगातार गोरक्षक द्वारा मुसलमानों को मारने-पीटने के मामले सामने आ रहे हैं। ऐसे में बकरीद के मौके पर लोग कुर्बानी देने के लिए बड़ी मात्रा में जानवरों की खरीद-फरोख्त करेंगे। ऐसे में गौरक्षक इन पर हमला कर सकते हैं और ऐसे में माहौल बिगड़ सकता है। 

 

ADS

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )

ADS

ADS

मुख्य खबरें

ADS

ADS

ADS

ADS

Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo