Breaking News
कर्नाटकः कुमारस्वामी के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंची हिंदू महासभा, कहा-असंवैधानिक तरीके से बन रहे हैं मुख्यमंत्रीGoogle ने Doodle बनाकर महान समाज सुधारक राजा राम मोहन राय को दी श्रद्धांजलियूपीः योगी के मंत्री के बेटे ने दी धमकी,कहा- महिलाओं को गलत तरीके से छूनेवालों के हाथ काट दूंगापूर्व प्रधानमंत्री देवगौड़ा का कांग्रेस को लेकर बड़ा खुलासा, बोले- हमने दिया था उन्हें सीएम का ऑफर'निपाह वायरस' का कहर, केरल के कोझिकोड में अब तक 16 लोगों की मौतरोटोमैक घोटाला: CBI ने विक्रम कोठारी के खिलाफ दायर की चार्जशीट, रोटोमैक की होगी नीलामीकर्नाटक में अभी बाकी है 'नाटक', किसे कौन सा मंत्रालय मिलेगा, आज होगा तयकर्नाटक में अभी बाकी है 'नाटक', किसे कौन सा मंत्रालय मिलेगा, आज होगा तय
Top

वैज्ञानिकों का दावा, अगर 2 डिग्री और बढ़ा धरती का तापमान तो जलसमाधि ले लेगी पृथ्वी!

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Nov 16 2017 2:55PM IST
वैज्ञानिकों का दावा, अगर 2 डिग्री और बढ़ा धरती का तापमान तो जलसमाधि ले लेगी पृथ्वी!

बढ़ते प्रदूषण की खबरें तो आप आजकल पढ़ ही रहे होंगे लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि अगर इस तरह से प्रदूषण का स्तर बढ़ता गया तो पृथ्वी का क्या होगा? क्या आपने सोचा है कि हम आने वाली जेनेरेशन के लिए क्या छोड़कर जा रहे हैं? आइए आपको बताते हैं कि प्रदूषण का स्तर अगर बढ़ता रहा तो क्या हो सकता है।

 
वैज्ञानिकों की आम राय है कि 1950 से अभी तक के आंकड़े बता रहे हैं कि पृथ्वी का तापमान 0.8 डिग्री सेल्सियस तक बढ़ चुका है। वैज्ञानिकों के मुताबिक तेजी से हो रहा औद्योगिकण बढ़ते प्रदूषण के लिए काफी हद तक जिम्मेदार है। बता दें कि तापमान का बढ़ता स्तर हमें पृथ्वी के मौसम में बदलाव के जरिए देखने को मिल रहा है।
 
दुनिया के सभी देशों को बढ़ते प्रदूषण की और तापमान की चिंता है। यही कारण है कि देशों को यह कहते हुए सुना गया है कि तापमान में लगातार हो रही वृद्धि को रोकने के लिए हमें एकजुट होकर काम करना होगा। वैज्ञानिकों का मानना है कि अगर पृथ्वी की बिगड़ती हालत को नहीं सुधारा गया तो अगले 50 से 100 वर्षों में पृथ्वी के जन-जीवन के लिए गंभीर चुनौती सामने आ सकती है।
 
ज्यादातर वैज्ञानिकों का मानना है कि अगर पृथ्वी का तापमान 2 डिग्री से बढ़कर 4 डिग्री हो गया तो जन-जीवन को इसका दुष्परिणाम झेलना पड़ सकता है।
 
 
1.अगर पृथ्वी का तापमान बढ़ गया तो पृथ्वी की हवाएं गर्म हो जाएंगी और पृथ्वी भी लू की चपेट में आ जाएगी।
 
2. वैज्ञीनिकों का दावा है कि अगर तापमान बढ़ता रहा तो समुद्र तल में यह इजाफा 0.7 से 1.2 मीटर तक होगा। इसके साथ ही समुद्री तटों पर लहरों की रफ्तार में भी इजाफा होगा। ऐसे में समुद्र तटों के किनारे जीवन-यापन मुश्किल हो जाएगा।
 
 
3. इसके साथ ही बढ़ते तापमान के कारण कई जगहों पर बाढ़ और सूखा देखने को मिलेगा जिससे की भूखमरी होगी। खतरनाक तूफानों की भी चपेट में पृथ्वी आ जाएगी।

ADS

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
scientist claimed that increasing global warming may have disastrous effects on earth temperature

-Tags:#Global warming#Delhi#Smog in delhi#Pollution on earth

ADS

ADS

मुख्य खबरें

ADS

ADS

ADS

ADS

Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo