Breaking News
Top

उत्तर-पश्चिम म्यांमार में रोहिंग्याओं के 8 गांव जलकर हुए खाक!

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Sep 9 2017 3:33PM IST
उत्तर-पश्चिम म्यांमार में रोहिंग्याओं के 8 गांव जलकर हुए खाक!

उत्तर- पश्चिमी म्यांमार के एक हिस्से में शुक्रवार को आठ गांवों को जला दिया गया। हिंसा से बचने के लिए बड़ी संख्या में रोहिंग्या मुस्लिमों ने शरण ली थी। सूत्रों ने बताया कि आगजनी की यह घटना राथेडांग कस्बे में हुई। उनका कहना है कि इस आग में आंतरिक रूप से विस्थापित लोगों के शिविर भी जल गए। 

बता दें कि रखाइन बौद्ध और रोहिंग्या मुस्लिम आबादी साथ-साथ रहती है। वहीं मानवाधिकार पर्यवेक्षकों और भाग रहे रोहिंग्याओं का कहना है कि सेना और रखाइन मिलकर मुस्लिम आबादी को बाहर निकालने के लिए अभियान चला रहे हैं। जिसके बाद म्यांमार ने इस पर सफाई देते हुए कहा कि सेना चरमपंथी आतंकियों का सफाया करने का अभियान चला चला रही है।

इसे भी पढ़ें- 2 हफ्तों में म्यांमार से 2.7 लाख रोहिंग्या मुस्लिमों का पलायन

रोहिंग्या मुसलमान म्यांमार से बड़ी संख्या में पलायन कर के भारत और बांग्लादेश समेत कई देशों में शरनार्थी के रूप में पहुंच रहे हैं। लेकिन इस आगजनी की इस ताजा घटना से  रोहिंग्या मुस्लिमों की बांग्लादेश की ओर पलायन की संभावना बढ़ गई है। 

बता दें कि संयुक्त राष्ट्र की शरणार्थियों पर काम करने वाली समिति का दावा है कि पिछले दो हफ्तों में म्यांमार से 2,70,000 अल्पसंख्यकों ने पलायन किया। इनमें ज्यादातर रोहिंग्या मुस्लिम हैं और वे भागकर बांग्लादेश आए। राथेडांग का इलाका बांग्लादेश सीमा से काफी दूर है। मानवतावादी कार्यकर्ताओं को आशंका है कि बड़ी संख्या में मुस्लिम वहां फंस गए हैं।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
rohingya muslims will migrate more after fire in myanmar

-Tags:#Myanmar#North West Myanmar#Rohingya Muslims
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo