Breaking News
भारतीय क्रिकेटर मोहम्मद शम्मी के खिलाफ पति से विवाद मामले में कोर्ट ने जारी किया समनएयरफोर्स का MiG-21 क्रैश, पायलट लापता, करीब एक घंटे से जारी खोजबीनCM नीतीश कुमार ने बिहार में किन्नरों को सुरक्षा गार्ड बनाने को लेकर की बैठकपीएम मोदी पहुंचे संसद भवन, कहा- देशहित में बहस जरूरी, सार्थक बहस करे विपक्षशशि थरूर ने हिंदू 'पाकिस्तान राष्ट्र' के बाद 'हिंदू तालिबान' को लेकर दिया विवादित बयानकर्नाटकः बस स्टैंड में लड़कियों को छेड़ रहे थे, पुलिस ने 6 मनचलों को किया गिरफ्तारकेरलः भारी बारिश के कारण प्राइवेट और सरकारी स्कूल को बंद करने का निर्देशग्रेटर नोएडा हादसा: 6 मंजिला इमारत गिरने से अब तक 3 लोगों की मौत, NDRF की टीम पहुंची
Top

मुगलसराय स्टेशन का नाम बदलने पर राज्यसभा में जोरदार बहस

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Aug 4 2017 2:18PM IST
मुगलसराय स्टेशन का नाम बदलने पर राज्यसभा में जोरदार बहस

 उत्तर प्रदेश के मुगलसराय स्टेशन का नाम बदलने को लेकर मानसून सत्र के दौरान राज्यसभा में जोरदार हंगामा हुआ।

समाजवादी पार्टी ने शुक्रवार को राज्यसभा में ये मुद्दा उठाया और सरकार पर जगहों की पहचान बदलने को लेकर सवाल उठाए। 

सपा सांसद नरेश अग्रवाल ने इस मुद्दे पर सदन में कहा कि सरकार सारे पुराने शहरों और जगहों के नाम बदल रही है। 

जिसको लेकर उन्होंने कहा कि सरकार यूपी का भूगोल बदलने की कोशिश कर रही है। 

मुगलसराय रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर जनसंघ के नेता दीन दयाल उपाध्याय के नाम पर रखना चाहती है। 

जिसको लेकर समाजवादी पार्टी के सांसदों ने इसका विरोध किया। 

पं. दीनदयाल उपाध्याय का जन्म 25 सितम्बर 1916 को मथुरा जिले के छोटे से गांव नगला चन्द्रभान में हुआ था।

वे भारतीय जनसंघ के अध्यक्ष भी रहे साथ ही दीनदयाल सिर्फ एक राजनेता नहीं थे, वे एक पत्रकार, लेखक, संगठनकर्ता, वैचारिक चेतना से लैस एक सजग इतिहासकार, अर्थशास्त्री और भाषाविद् भी थे।

ADS

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
rajyasabha ruckus on mughalsarai station during monsoon session

-Tags:#Uttar pradesh#Mughalsarai Station#Samajwadi Party#Naresh Aggrawal

ADS

ADS

मुख्य खबरें

ADS

ADS

ADS

ADS

Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo