Breaking News
Top

रेल टिकट चाहिए तो अब स्टेशन नहीं, बैंक जाएं

haribhoomi.com | UPDATED Feb 17 2017 8:14AM IST
नई दिल्ली. रेलवे विभाग रेल यात्रियों के लिए एक नई सौगात लेकर आया है। यात्रियों की सुविधा के लिए रेलवे एक बड़ा कदम उठाने जा रहा है जिसके तहत रेलवे के जनरल श्रेणी के टिकट अब बैंकों में भी मिलेंगे। बहुत जल्द बैंकों में यह सुविधा शुरू होने जा रही है। रेलवे बोर्ड ने अगस्त 2016 में इस योजना पर काम शुरू किया था, जो अब अपने अंतिम चरण में है। इस योजना को लेकर भारतीय स्टेट बैंक और रेलवे में बातचीत चल रही है।
 
 
2 विकल्पों पर किया जा रहा है विचार
रेलवे की मानें तो इस साल अप्रैल तक भारतीय स्टेट बैंक से इस योजना को लेकर करार हो जाएगा। इसके बाद 'क्रिस' की मदद से ट्रायल शुरू होगा क्योंकि बैंक व रेलवे की व्यवस्था क्रिस ही संभालती है। भारतीय रेलवे इस योजना के लिए दो विकल्पों पर विचार कर रहा है। पहले विकल्प के तहत बैंक परिसर में ही ऑटोमेटिक टिकट वेंडिंग मशीन (एटीवीएम) के जरिए लोगों को टिकट उपलब्ध कराए जाएं। दूसरा विकल्प ये है कि बैंक के एटीएम में सुधार कर उसमें रेलवे टिकट का ऑपशन जोड़ा जाए।
 
यात्रियों को मिलेगा मुश्किलों से छुटकारा 
इस योजना से लोगों को काफी सहुलियत होगी। बैंकों से टिकट मिलने की सुविधा के बाद स्टेशनों के जनरल टिकट काउंटर पर भीड़ कम हो जाएगी। यात्रियों को लाइन में लगने के झंझट से भी छुटकारा मिल जाएगा। इसके अलावा यात्रियों को ट्रेन छूटने के डर से भी मुक्ति मिलेगी।
 
अभी कहां-कहां शुरू है सुविधा 
टाटा नगर (जमशेदपुर) रेलवे स्टेशन पर इसी तरह के दो सीओएटीवीएम भी लगे हुए हैं, जिनसे यात्री नोट, सिक्के और स्मार्ट कार्ड के जरिए जनरल टिकट ले सकते हैं। हालांकि तीन तरह की सुविधा वाले सीओएटीवीएम चंद स्टेशनों पर ही हैं। यात्रियों की सुविधा के लिए मानगो के बस स्टैंड पर भी जन साधारण टिकट केंद्र खोला गया है। बता दें कि टाटा नगर में रोजाना 15 हजार से भी ज्यादा जनरल टिकट बिकते हैं। इसके अलावा रेलवे के स्टेशन काउंटर से 4 हजार तक प्लेटफॉर्म टिकटों की बिक्री भी होती है।
 
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo