Hari Bhoomi Logo
रविवार, सितम्बर 24, 2017  
Top

चीनी सामानों का बहिष्कार: सामान खरीदने से पहले लोगों ने पूछा- क्या ये चाइनीज है?

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Aug 5 2017 12:29PM IST
चीनी सामानों का बहिष्कार: सामान खरीदने से पहले लोगों ने पूछा- क्या ये चाइनीज है?

चीन और भारत के बीच सीमा विवाद को लेकर तनातनी जारी है। चीन भारत को बार-बार धमकियां दे रहा है, चीन ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी भारत के देशवासियों को गुमराह न करें क्योंकि चीन और भारत की ताकत में बड़ा अंतर है। चीन ने शुक्रवार को कहा था कि अब हमारे सब्र का बांध टूट रहा है और भारतीय सेना को पीछे हट जाना चाहिए।

इसे भी पढ़ें: राम जन्मभूमि विवादः 11 अगस्त से SC में होगी रोजाना सुनवाई

चीन और भारत का विवाद अब दोनों देशों के लोगों के बीच भी दिखने लगा है। दरअसल उत्तर प्रदेश के आगरा में दुकानदारों ने कहा कि वो चीनी चीजें नहीं बेचेंगे और न ही यहां लोग चीनी प्रोडक्ट्स को खरीदने में दिलचस्पी रखते हैं।
 
दुकानदारों ने कहा कि लोग चीनी राखियां इस बार नहीं खरीद रहे हैं। हाल ही में यूपी सरकार ने भी चीनी पतंगों और मांझे पर प्रतिबंध लगा दिया है। जनता भी खुद ही ऐसे प्रोडक्ट्स खरीदने से बच रही है, जिन पर 'मेड इन चाइना' का ठप्पा लगा हुआ है।
 
 
गौरतलब है कि चीन और भारत के बीच विवाद का असर भारतीय बाजारों पर भी देखने को मिला है। ग्राहक चाइनीज प्रोडक्ट्स को खरीदने से बच रहे हैं और व्यापारी भी इनका पूरी तरह बहिष्कार कर रहे हैं।
 
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
popularity of chinese products going down in india due to india china border tension

-Tags:#india china war#india china relationship#india china 1962 war
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo