Breaking News
IPL 2018: चेन्नई ने हैदराबाद को हराकर जीती आईपीएल 11 की ट्रॉफीरिपोर्ट में हुआ खुलासा, कानपुर सेंट्रल ने देश के सबसे गंदे रेलवे स्टेशन में किया टॅाप, यहां देखे पूरी लिस्टकिम जोंग ने दूसरी बार दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति से की मुलाकात, ट्रंप के साथ 12 जून की मुलाकात संभवशर्मनाकः दिल्ली से सटे गुरुग्राम में ऑटो चालक ने अपने साथियों के साथ मिलकर गर्भवती महिला के साथ किया गैंगरेपभारतीय महिला की मौत के बाद आयरलैंड में हटा गर्भपात से बैन, सविता की मौत के बाद जनमत संग्रह से हुआ फैसलापीएम मोदी ने किया ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे का उद्घाटन14वें दिन भी बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, दिल्ली में 78 तो मुंबई में 86 के पार पहुंचे पेट्रोल के दामनीतीश कुमारः बैंकों की लचर कार्यप्रणाली के चलते लोगों को नहीं मिला नोटबंदी का अपेक्षित लाभ
Top

संसद पहुंचा पद्मावती विवाद, भंसाली समेत कई लोगों को तलब कर सकती है कमेटी

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Nov 20 2017 9:38PM IST
संसद पहुंचा पद्मावती विवाद, भंसाली समेत कई लोगों को तलब कर सकती है कमेटी

संजय लीला भंसाली की फिल्म 'पद्मावती' का विवाद अब संसद तक पहुंच गया है। इस मामले में संसद की पिटिशन कमेटी में एक याचिका दायर की है। 

ये याचिका राजस्थान के चित्तौड़गढ़ से सांसद सीपी जोशी ने दायर की है। जानकारी के मुताबिक सीपी जोशी द्वारा दायर याचिका को पिटिशन कमेटी ने मंजूरी के बाद सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय को भेज दिया है।

बताया जा रहा है कि संसद की पिटिशन कमेटी इस मामले में चित्तौड़ के पूर्व राजघराने के सदस्यों विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों, और फिल्म् निर्माता संजय लीला भंसाली तथा कलाकारों को तलब कर सकती है। 

इसे भी पढ़ें- सीएम शिवराज बोले, मप्र की धरती पर नहीं होने देंगे फिल्म 'पद्मावती' का प्रदर्शन

आपको बता दें कि फिल्म पद्मावती का विवाद भी राजस्थान के चित्तौड़गढ़ राजघराने से जुड़ा हुआ है। 

इस फिल्म में रानी पद्मावती के चरित्र को गलत ढंग से पेश किए जाने की आशंका से करणी सेना समेत कई राजपूत संगठन विरोध कर रहे हैं।

रानी पद्मावती के आपत्तिजनक फिल्मांकन को लेकर कई राज्यों ने इस फिल्म के प्रदर्शन पर पाबंदी लगा दी है। 

ये है याचिका 

चित्तौड़गढ़ से सांसद सीपी जोशी द्वारा इस याचिका में मांग की गई है कि इससे पहले भी ऐतेहासिक तथ्यों पर आधारित कई फिल्मे बन चुकी है। लेकिन किसी की भावनाओं को ठेस नहीं पहुंचनी चाहिए। 

जोशी ने अपनी याचिका में ये भी कहा है कि रिलीज से पहले इस फिल्म को एक बार मेवाड़ के पूर्व राजघराने के सदस्यों और फिल्म इतिहासकारों को दिखाई जानी चाहिए।

ADS

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
petition committee can summon bhansali on padmavati row

-Tags:#Sanjay Leela Bhansali#Padmavati Controversy#Petition Committee#CP Joshi

ADS

ADS

मुख्य खबरें

ADS

ADS

ADS

ADS

Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo