Breaking News
कर्नाटकः कुमारस्वामी के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंची हिंदू महासभा, कहा-असंवैधानिक तरीके से बन रहे हैं मुख्यमंत्रीGoogle ने Doodle बनाकर महान समाज सुधारक राजा राम मोहन राय को दी श्रद्धांजलियूपीः योगी के मंत्री के बेटे ने दी धमकी,कहा- महिलाओं को गलत तरीके से छूनेवालों के हाथ काट दूंगापूर्व प्रधानमंत्री देवगौड़ा का कांग्रेस को लेकर बड़ा खुलासा, बोले- हमने दिया था उन्हें सीएम का ऑफर'निपाह वायरस' का कहर, केरल के कोझिकोड में अब तक 16 लोगों की मौतरोटोमैक घोटाला: CBI ने विक्रम कोठारी के खिलाफ दायर की चार्जशीट, रोटोमैक की होगी नीलामीकर्नाटक में अभी बाकी है 'नाटक', किसे कौन सा मंत्रालय मिलेगा, आज होगा तयकर्नाटक में अभी बाकी है 'नाटक', किसे कौन सा मंत्रालय मिलेगा, आज होगा तय
Top

2017: इस साल सबसे ज्यादा हुआ सीजफायर उल्लंघन, पाक ने इतनी बार किया दुस्साहस

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Dec 7 2017 2:41PM IST
2017: इस साल सबसे ज्यादा हुआ सीजफायर उल्लंघन, पाक ने इतनी बार किया दुस्साहस

पाक ने साल 2017 में जम्मू-कश्मीर में अंतर्राष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा के पास सीजफायर उल्लंघन का रिकॉर्ड तोड़ा है। पिछले 7 सालों में इस साल सीजफायर उल्लंघन की ये घटना बाकी सालों से सबसे अधिक है।

गृह मंत्रालय के अनुसार, पाक सुरक्षा बलों ने इस साल अक्तूबर तक नियंत्रण रेखा व अंतर्राष्ट्रीय सीमा के पास 724 बार सीजफायर उल्लंघन किया। जबकि साल 2016 में यह संख्या सिर्फ 449 थी। 

यह भी पढ़ें- इयर ऑन ट्विटर 2017: मोदी का जलवा रहा कायम, टॉप 10 में सिर्फ ये एक्ट्रेस शामिल

गृह मंत्रालय के एक अधिकारी के अनुसार, इस साल अक्तूबर तक सीमा पार से हुई गोलीबारी में 12 स्थानीय नागरिक मारे गए और 17 सुरक्षाकर्मी इसमें शहीद हो गए। इसके मुताबिक, सीमा पार से हुई गोलीबारी में कुल 67 सुरक्षाकर्मी घायल व 79 स्थानीय नागरिक मारे गए।  

नियंत्रण रेखा, अंतर्राष्ट्रीय सीमा और जम्मू-कश्मीर में वास्तविक जमीनी स्थिति रेखा के पास भारत-पाकिस्तान के बीच युद्धविराम नवंबर 2003 में अमल में आया था।

पाक से लगती भारत की 3,323 किमी. लंबी सीमा रेखा जिसमें जम्मू-कश्मीर में 221 किमी, अंतर्राष्ट्रीय सीमा और 740 किलोमीटर नियंत्रण रेखा से लगती है। 

यह भी पढ़ें- 2017: सोशल मीडिया पर सुर्खियां में रहीं ये तस्वीरें, जिन्होंने बयां किया मानवता का दर्द 

  • पाक द्वारा साल 2016 में सीजफायर उल्लंघन की 449 घटनाएं हुई थीं। इसमें 13 स्थानीय नागरिक मारे गए व 13 सुरक्षाकर्मी शहीद हो गए थे और 83 स्थानीय नागरिक मारे गए व 99 सुरक्षाकर्मी घायल हो गए थे। 

  • साल 2015 में सीजफायर उल्लंघन की 405 घटनाएं हुई।

  • साल 2013 में यह आंकड़ा 347 था।

  • साल 2012 में सीजफायर उल्लंघन की 114 घटनाएं हुई।

  • साल 2011 में सीजफायर उल्लंघन की 62 घटनाएं हुई।

  • साल 2010 में सीजफायर उल्लंघन की 62 घटनाएं हुई।


ADS

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )

ADS

ADS

मुख्य खबरें

ADS

ADS

ADS

ADS

Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo