Top

पाकिस्तान में मची तबाही, बम विस्फोट में चार की मौत- कई घायल

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Nov 25 2017 6:15PM IST
पाकिस्तान में मची तबाही, बम विस्फोट में चार की मौत- कई घायल

पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत में आज सुरक्षा बलों को निशाना बनाकर किये गए एक हमले में कम से कम चार व्यक्तियों की मौत हो गई और 15 अन्य घायल हो गए। अधिकारियों ने बताया कि हमलावरों ने बलूचिस्तान प्रांत की राजधानी क्वेटा के सरियाब रोड पर सुरक्षा बलों के एक वाहन को निशाना बनाकर हमला किया। 

इसे भी पढ़ें: अपने ही जाल में फंस गया पाकिस्तान, एक की मौत, 100 घायल- 150 गिरफ्तार

पाकिस्तान के इस अशांत क्षेत्र में सुरक्षाकर्मियों पर होने वाला यह नवीनतम हमला है। उन्होंने बताया कि हमले में चार व्यक्तियों की मौत हो गई लेकिन उनकी पहचान अभी पता नहीं चली है। यह किस तरह का हमला था, अभी तत्काल पता नहीं चला है लेकिन पुलिस को संदेह है कि यह एक आत्मघाती हमला हो सकता है।

इसे भी पढ़ें: खून से सने हैं आतंकी हाफिज सईद के हाथः पूर्व CIA अधिकारी

किसी भी समूह ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है लेकिन तालिबान आतंकवादियों और बलूच राष्ट्रवादी क्षेत्र में अक्सर सुरक्षा बलों पर हमले करते हैं। बता दें कि गत 15 नवम्बर को बलूचिस्तान में पाकिस्तान के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी और उसके परिवार के तीन सदस्यों की मोटरसाइकिल सवार अज्ञात आतंकवादियों ने हत्या कर दी थी।

इस्लामाबाद में भी खूनी संघर्ष  

वहीं दूसरी तरफ पाकिस्तान में राजधानी इस्लामाबाद की ओर जाने वाले राजमार्ग की घेराबंदी कर प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारियों को हटाने के लिये पुलिस और अर्द्धसैनिक बलों के अभियान शुरू करने के बाद झड़पों में आज एक शख्स की मौत हो गयी और 150 से अधिक अन्य लोग घायल हो गए।

पाक गृहमंत्री को नोटिस जारी

पाकिस्तान के गृहमंत्री एहसान इकबाल के खिलाफ कल इस्लामाबाद हाईकोर्ट (आईएचसी) ने अदालत की अवमानना का नोटिस जारी किया था जिसके बाद यह अभियान शुरू किया गया। यह नोटिस सड़क खाली कराने से संबद्ध अदालत के आदेश को लागू करने में नाकाम रहने के बाद जारी किया गया।

पाकिस्तान सरकार ने मीडिया पर लगाया प्रतिबंध

प्रदर्शनकारियों के खिलाफ चल रहे अभियान के बीच पाकिस्तान सरकार ने फेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब जैसी लोकप्रिय मीडिया साइट को प्रतिबंधित कर दिया है। तकरीबन सभी समाचार चैनलों को रोक दिये जाने के बाद यह फैसला किया गया। बहरहाल पुलिस अब तक फैजाबाद मोड़ से प्रदर्शनकारियों को हटाने में नाकाम रही है। 

दो हजार कार्यकर्ताओं ने की घेराबंदी

प्रदर्शनकारी यहां करीब तीन सप्ताह से कब्जा जमाये बैठे हैं। तहरीक-ए-खत्म-ए-नबूवत, तहरीक-ए-लबैक या रसूल अल्लाह (टीएलवाईआर) और सुन्नी तहरीक पाकिस्तान (एसटी) के करीब 2,000 कार्यकर्ताओं ने दो सप्ताह से अधिक समय से इस्लामाबाद एक्सप्रेसवे और मुर्री रेाड की घेरेबंदी कर रखी थी। 

घायल अस्पताल में भर्ती

यह सड़क इस्लामाबाद को इसके एकमात्र हवाईअड्डे और सेना के गढ़ रावलपिंडी को जोड़ती है। प्रदर्शनकारी खत्म-ए-नबूवत सितंबर में पारित चुनाव अधिनियम 2017 में बदलावों को लेकर कानून मंत्री जाहिद हमीद के इस्तीफे की मांग कर रहे थे। स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि घायलों को इस्लामाबाद और रावलपिंडी के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है।

कई प्रदर्शनकारी गिरफ्तार

इस्लामाबाद सिटी मजिस्ट्रेट ने कल प्रदर्शनकारियों को आधी रात तक वहां से हटने या नतीजा भुगतने की चेतावनी जारी की थी। टीवी फुटेज में पुलिस प्रदर्शनकारियों पर आंसू गैस के गोले छोड़ती और सुरक्षाकर्मी बल प्रयोग करते दिख रहे हैं। इनमें से कई लोगों को गिरफ्तार कर विभिन्न पुलिस थानों में भेजा गया है।

पाकिस्तान पुलिस और प्रशासन दोनों परेशान

प्रदर्शनकारियों के पथराव के चलते कई सुरक्षाकर्मी घायल हो गए। सुरक्षा अधिकारी के अनुसार करीब 2,000 प्रदर्शनकारियों के खिलाफ अभियान में 8,000 से अधिक सुरक्षा कर्मियों ने हिस्सा लिया था। अभियान अब भी जारी है और पुलिस को प्रदर्शनकारियों से भारी प्रतिरोध का सामना करना पड़ रहा है।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
pakistan ban news channels after security forces crackdown on protestors and bomb blast

-Tags:#Pakistan#Pakistan Ban News Channels#Pakistan Bomb Blast
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo