Hari Bhoomi Logo
बुधवार, सितम्बर 20, 2017  
Top

जाधव की दया याचिका पर पाक आर्मी चीफ सबूतों के आधार पर करेंगे फैसला

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Jul 16 2017 7:07PM IST
जाधव की दया याचिका पर पाक आर्मी चीफ सबूतों के आधार पर करेंगे फैसला

पाकिस्तान की सैन्य अदालत द्वारा कथित जासूसी के जुर्म में मौत की सजा का सामना कर रहे भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव की दया याचिका पर पाकिस्तान के आर्मी चीफ कमर जावेद बाजवा विचार कर रहे हैं।

पाकिस्तानी सेना की तरफ से कहा गया है कि आर्मी चीफ जाधव के खिलाफ सबूतों का विश्लेषण कर रहे हैं और उनकी दया याचिका पर मेरिट के आधार पर फैसला करेंगे। पाकिस्तान की मिलिटरी कोर्ट द्वारा दया याचिका खारिज होने के बाद जाधव ने पाक आर्मी चीफ के यहां दया याचिका दाखिल की है।

इसे भी पढ़ें: जाधव की मां को नहीं मिला वीजा, सुषमा ने किया पाक विदेश मंत्री को तलब

आईसीजे में 13 सितंबर को भारत, 13 दिसंबर को पाक रखेगा पक्ष

पाकिस्तानी सैन्य अदालत द्वारा जाधव को मौत की सजा सुनाए जाने के खिलाफ भारत ने इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस में अपील की है। आईसीजे ने फिलहाल जाधव की फांसी पर रोक लगा रखी है।

आईसीजे ने भारत को जाधव मामले में और दस्तावेज जमा करने के लिए 13 सितंबर तक का वक्त दिया है, जबकि पाकिस्तान को 13 दिसंबर तक अपना पक्ष रखना है। भारत पाकिस्तान से जाधव तक राजनयिक पहुंच की 16 बार मांग कर चुका है लेकिन हर बार पाकिस्तान ने इस मांग को ठुकराया है।

जाधव पर दोनों देशों के यह हैं दावे

पाकिस्तान का दावा है कि जाधव भारतीय नौसेना के सर्विंग ऑफिसर हैं और उन्हें बलूचिस्तान के मश्केल से गिरफ्तार किया गया है जबकि भारत का कहना है कि जाधव नेवी के रिटायर्ड अफसर हैं।

भारत ने जाधव की बलूचिस्तान से गिरफ्तारी की पाकिस्तान के दावे को खारिज करते हुए कहा है कि रिटायर्ड अफसर को ईरान से अगवा किया गया था। जाधव नौसेना से रिटायर होने के बाद ईरान में बिजनस करते थे।

इसे भी पढ़ें: पाकिस्तान जेल में बंद हैं 546 भारतीय नागरिक

जाधव की मां को नहीं दे रहा मिलने

पाकिस्तानी सेना जाधव को दोषी बताते हुए 2 बार उनके कथित कबूलनामों का विडियो जारी कर चुकी है। कथित कबूलनामे के दोनों ही विडियो में कई कट हैं और उन्हें एक से ज्यादा कैमरों से शूट किया गया है। भारत का कहना है कि पाकिस्तानी सेना ने टॉर्चर कर जाधव के बयान रिकॉर्ड कराए हैं।

पाकिस्तान न सिर्फ जाधव तक भारत के राजनयिक पहुंच की मांग खारिज करता रहा है बल्कि जाधव की मां को उनसे मिलने के वीजा देने से भी आनाकानी कर रहा है। जाधव की मां ने अपने बेटे से मिलने के लिए पाकिस्तानी वीजा के लिए आवेदन किया है लेकिन पाकिस्तान ने उन्हें वीजा जारी नहीं किया है।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
pakistan army chief analysing evidence against kulbhushan jadhav says ispr

-Tags:#Pakistan News#Army#Kulbhushan Jadhav Case#Jadhav Case#
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo