Breaking News
Top

आतंकी संगठनों की टूट रही है कमर, अब मिलते हैं सिर्फ इतने रुपए

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Sep 6 2017 3:06PM IST
आतंकी संगठनों की टूट रही है कमर, अब मिलते हैं सिर्फ इतने रुपए
भारत की कारगर रणनीति और अंतरराष्ट्रीय दबाव के बाद पाकिस्तान और जम्मू कश्मीर में सक्रिय आतंकी संगठनों की कमर अब टूटने लगी है। इसका नतीजा है कि आतंकी संगठन अपने भाड़े के आतंकियों के फंड में कटौती करने को मजबूर हो गए हैं। 
 
आतंकियों के हौसले पस्त
बता दें कि जिस तरह से भारत सरकार और उसकी सुरक्षा एजेंसियों ने जम्मू कश्मीर में आतंकी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई की है। चुन-चुन कर आतंकियों को ढेर किया है और इनकी फंडिंग के तार तोड़ दिए हैं, उससे आतंकी संगठनों के हौसले पस्त हो रहे हैं। 
 
आतंकियों की सैलरी हुई कम 
रक्षा सूत्रों के मुताबिक अब घाटी में आतंकियों की मौजूदगी कम होती जा रही है। इसकी एक वजह यह भी है कि पाक में सक्रिय आतंकी संगठन फंड की कमी से जूझ रहे हैं। इसी वजह से उन्होंने अपने आतंकियों की सैलरी भी कम कर दी है।
 
आतंक से युवाओं का मोह भंग  
जहां पहले आतंकियों को बेहतरीन काम करने के लिए 30 से 50 हजार रुपये मिला करते थे, वो अब घटकर 15 से 20 हजार हो गया है। इससे भी बेरोजगारों का आतंकवाद से मोह भंग हो रहा है। कोई भी कम रकम में जोखिम नहीं उठाना चाहता है।
 
एनआईए ने निभाया अहम रोल
जिस तरह से आतंकियों की फंडिंग पर अमेरिका और भारत ने मिलकर काम किया है, उससे भी आतंकवादी संगठनों को करारा झटका लगा है। इसमें भारतीय सुरक्षा एजेंसी एनआईए ने भी अहम रोल निभाया है।
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
pak and jk terrorist organizations are no longer getting fund

-Tags:#Terrorists#J&K#Pakistan#Jammu Kashmir#NIA#Indian Army
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo