Hari Bhoomi Logo
शुक्रवार, जुलाई 28, 2017  
Top

देशहित सर्वोपरि, राष्ट्रीय सुरक्षा और अखंडता को लेकर साथ आए विपक्षी दल

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Jul 15 2017 10:00AM IST
देशहित सर्वोपरि, राष्ट्रीय सुरक्षा और अखंडता को लेकर साथ आए विपक्षी दल

भारत और चीन के बीच डोकलाम सीमा पर जारी तनाव और कश्मीर की समस्या को लेकर केंद्र सरकार के द्वारा बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में विपक्षी दलों ने सरकार के साथ कदम से कदम मिलाकर साथ चलने का भरोसा दिया। 

तीन घंटे से ज्यादा चली इस बैठक में गृह सचिव ने अमरनाथ यात्रियों पर हुए हमले के बारे में विस्तार से विपक्ष को बताया। 

वहीं हमले के बाद अमरनाथ यात्रियों की सुरक्षा को लेकर सरकार के द्वारा किए गए इंतजाम और यात्रा व्यवस्था के बारे में भी उन्होंने विपक्षी दलों को जानकारी दी गई। 

इसे भी पढ़ेंः- चीन-कश्मीर सीमा विवाद: सुषमा और राजनाथ की विपक्षी दलों के साथ बैठक खत्म

चीन के साथ डोकलाम में चल रहे विवाद पर विदेश सचिव एस जयशंकर ने अपनी बात विपक्षी दलों के सामने रखी। 

उन्होंने बताया कि इस जगह पर चीन की घुसपैठ भारत के लिए किस तरह खतरनाक साबित हो सकती है। उत्तर-पूर्व में 'चिकन नेक' कहे जाने वाले इलाके के करीब पहुंच बनाने की चीन की रणनीति और उसके परिणामों पर भी विस्तार से विपक्ष को बताया।

कौन-कौन हुए बैठक में शामिल

गृह मंत्री राजनाथ सिंह के घर पर हुई इस बैठक में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, रक्षा मंत्री अरुण जेटली, रामविलास पासवान, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल, विदेश सचिव और गृह सचिव भी शामिल हुए।

वहीं विपक्षी नेताओं में गुलाम नबी आजाद, पूर्व रेल मंत्री मल्लिकार्जुन खड़गे, आनंद शर्मा, सीताराम येचुरी और तृणमूल सांसद डेरेक ओ ब्रायन समेत कई दलों के नेताओं ने इस बैठक में हिस्सा लिया। 

इसे भी पढ़ेंः- कश्मीर: अब रोज चलेगा आतंक के खिलाफ सेना का ऑपरेशन, नार्थ कश्मीर में 125 आतंकी

बैठक खत्म होने के बाद कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि उनकी पार्टी ने सरकार के समक्ष कुछ सवाल उठाए, लेकिन उन्होंने स्पष्ट किया कि राष्ट्र सर्वोपरि है, फिर चाहे वह चीन का मुद्दा हो या कश्मीर।

तृणमूल सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने कहा कि उनकी पार्टी ने कुछ गंभीर सवाल सरकार के समक्ष उठाए, जिनका जवाब नहीं मिला। माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने कहा कि सरकार ने बैठक में इन मुद्दों पर उसके द्वारा उठाए जा रहे कदमों की जानकारी दी। 

भारत डोकलाम सीमा से नहीं हटेगा पीछे

दिल्ली में आयोजित सर्वदलीय बैठक में केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने यह साफ कर दिया है कि भारत डोक ला क्षेत्र में अपने रणनीतिक हितों के लिए पीछे नहीं हटेगी। साथ ही यह भी कहा है कि सरकार कूटनीतिक स्तर पर इस मसले को चीन से हल करेगी। 

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
opposition parties on standoff with china and kashmir in all party meeting

-Tags:#All party meeting#Indo China dispute#Kashmir issue#Opposition party
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo