Breaking News
प्रतिनिधिमंडल के साथ दो दिवसीय दौरे पर भारत पहुंचे नीदरलैंड के PM मार्क रुट, पीएम मोदी के साथ करेंगे बैठकPM मोदी ने क्रिकेटर विराट कोहली का फिटनेस चैलेंज किया स्वीकार, लिखा- चैलेंज स्वीकार जल्द शेयर करुंगा वीडियोपेट्रोल-डीजल के दामों में 11वें दिन भी जारी बढ़ोत्तरी, पेट्रोल 30 पैसा और डीजल 19 पैसा हुआ मंहगा10वीं दिन भी पाक की तरफ से सीजफायर का उल्लंघन, नौशेरा सेक्टर में 1 घायललगातार हार से कांग्रेस में फंड का टोटा, AICC ने प्रदेश कमेटी के ऑफिस का खर्चा-पानी बंद कियाझारखंड को मिलेगी 27000 करोड़ की सौगात, 25 मई को पीएम मोदी करेंगे शिलान्यासRSS का राहुल गांधी पर तीखा हमला, कहा- खोई जमीन वापस पाने के लिए समाज को बांटने की कोशिशRBSE 12th Science Result 2018: राजस्थान बोर्ड ने साइंस और कॅामर्स का रिजल्ट किया जारी
Top

NSG को लेकर रूस का भारत को समर्थन जारी, कहा- फिर होगी चीन से बात

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Dec 7 2017 2:50PM IST
NSG को लेकर रूस का भारत को समर्थन जारी, कहा- फिर होगी चीन से बात

भारत के सबसे पुराने दोस्त रूस ने एक बार फिर दोस्ती की मिसाल पेश की है। एनएसजी के मुद्दे पर रूस ने भारत का खुलकर समर्थन किया है।

रूस ने कहा कि न्यूक्लियर सप्लाई ग्रुप (एनएसजी) आवेदन को पाकिस्तान से नहीं जोड़ा जा सकता है। रूस ने यह भी कहा कि चीन एनएसजी की सदस्यता को लेकर भारत के खिलाफ है।

ये भी पढ़ें - अम्बेडकर इंटरनेशनल सेंटर: पीएम मोदी ने उद्घाटन के दौरान इशारों इशारों में राहुल गांधी पर तंज

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, रूस के उप विदेश मंत्री सर्गेई रयाबकोव ने भारत के विदेश सचिव एस जयशंकर से मुलाकात की। रूस ने कहा कि हमने पहचाना कि पाकिस्तान के आवेदन को इस मौके पर सर्वसमति नहीं मिली है और भारत से इसको नहीं जोड़ा जा सकता है। 

उन्होंने आगे कहा कि हम जानते है कि इसमें कई समस्याएं शामिल हैं। लेकिन कई अन्य देश सिर्फ बोलते हैं। हम कुछ मसौदे तैयार कर रहे हैं। इस मामले पर हम चीन से कई अलग लेवल पर भी बातचीत कर रहे हैं।

चीन भारत की सदस्यता के खिलाफ है। 41 सदस्यों में वो है जो भारत की सदस्यता का विरोध कर रहा है। 

ये भी पढ़ें - चीन ने भारत पर लगाया नया आरोप, ड्रोन को लेकर दिया विवादित बयान

यह पहली बार नहीं है जब रूस ने भारत का समर्थन किया हो। रूस ने हर कदम पर एनएसजी में भारत की सदस्यता के लिए समर्थन किया है। मोस्को में रूस के राष्ट्रपति विलादिमीर पुतिन चीन से भारत की सदस्यता के लिए जोर लएगा। 

जानकारी के लिए बता दें कि 11 दिसंबर को चीन के विदेश मंत्री वांग यी भारत दौरे पर आने वाले हैं।  

 

ADS

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
nsg indias membership russia with china

-Tags:#China#India Nuclear Suppliers Group#Pakistan#Russia

ADS

ADS

मुख्य खबरें

ADS

ADS

ADS

ADS

Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo