Breaking News
Top

नोटबंदी सालगिरह: पीएम मोदी कर सकते हैं बेनामी संपत्ति पर बड़ा खुलासा, ये है प्लान

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Nov 8 2017 9:17AM IST
नोटबंदी सालगिरह: पीएम मोदी कर सकते हैं बेनामी संपत्ति पर बड़ा खुलासा, ये है प्लान

बीते दिनों पीएम मोदी ने हिमाचल रैली के दौरान नोटबंदी की सालगिरह के मौके पर कांग्रेस की काला दिवस पर चेतावनी दी थी कि अगर कांग्रेस काला दिवस मनाएगी तो हम एक बार फिर नई घोषणा करेंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भ्रष्टाचार के खिलाफ एक नया प्लान बनाया है। पीएम ने नोटबंदी के बाद बेनामी संपत्ति को अपना निशाना बनाया है। जिसकों लेकर आज वो देश को एक बार फिर देश के नाम संबोधन कर सकते हैं। 

ये भी पढ़ें - नोटबंदी की सालगिरह पर कई विपक्ष पार्टियां करेंगी धरना प्रदर्शन, बीजेपी देगी ऐसे जवाब

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, बीते दिनों पीएम मोदी ने हिमाचल रैली के दौरान नोटबंदी की सालगिरह के मौके पर कांग्रेस की काला दिवस पर चेतावनी दी थी कि अगर कांग्रेस काला दिवस मनाएगी तो हम एक बार फिर नई घोषणा करेंगे। पीएम मोदी ने इशारों इशारों बेनामी संपत्ति को लेकर चेतावनी दी। 

एक तरफ सरकार जहां इसे सफल और कारगर बताने में लगी हुई है, तो वहीं विपक्ष इसे सदी का सबसे बड़ा घोटाला बता रहा है। अब जब नोटबंदी के एक साल पूरे हो रहे हैं ऐसे में विपक्षी दल, सरकार के ही लोग और आम नागरिक सभी की निगाहें इस बात पर टिकी हुई हैं कि आखिर इस बार पीएम मोदी क्या कुछ करने जा रहे हैं। 

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, 8 नवंबर को पीएम आगे की रणनीति का रोडमैप पेश कर सकते हैं। ये भी कहा जा रहा है कि इस बारे में उच्च स्तरीय बैठकों का दौर जारी है। और बेनाम संपत्ति को लेकर नया कानून पेश हो सकता है। 

बता दें कि 10 नवंबर को केंद्रीय मंत्रियों की बैठक भी तय कार्यक्रम के अनुसार बुलाई गई है। कहा जा रहा है कि पीएम मोदी भ्रष्टाचार और बेनामी संपत्ति के खिलाफ अगले कदम से जुड़ी योजना पर कोई बड़ा ऐलान कर सकते हैं। 

गौरतलब है कि विपक्ष जहां नोटबंदी के एक साल पूरा होने पर 8 नवंबर को 'काला दिवस' मनाने की तैयार कर रही है। वहीं, सरकार ने पीएम मोदी की अगुआई में 8 नवंबर को 'ऐंटी ब्लैक मनी डे' मनाने का निर्णय लिया है। जिसमें नोटबंदी के फायदों के बारे में नेता और मंत्री जनता को बताएंगे।

क्‍या है बेनामी संपत्ति

बेनामी संपत्ति वो संपत्ति होती है जिसे किसी दूसरे के नाम पर लिया जाता है और उसकी कीमत का भुगतान कोई और करता है। इसके अलावा दूसरे नामों से बैंक खातों में फिक्‍सड डिपॉजिट करवाए जाते हैं। ऐसा वो लोग करते हैं जो जिससे वो इनकम टैक्‍स के दायरे में न आ सकें। 

ये भी पढ़ें - बीती रात से दिल्ली-एनसीआर में कोहरे से बुरा हाल, विजिबलिटी न्यूनतम स्तर पर पहुंची

दोषी व्यक्ति के खिलाफ होगी कार्रवाई

अब संशोधन के बाद बेनामी संपत्ति कानून के तहत संपत्ति को ट्रांसफर नहीं किया जा सकेगा। इसके अलावा इनकम डिसक्‍लोजर स्‍कीम 2016 के तहत जिन लोगों ने बेनामी संपत्ति की घोषणा की है। उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जाएगी। फिर भी केंद्र सरकार संपत्ति जब्‍त कर सकती है। और दोषी पाए जाने पर 1 से 7 साल की सजा हो सकती है। 

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
modi govt planing to strike against benami property after demonetization

-Tags:#Benami Property#Demonetization#BJP#Congress#Modi
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo