साहि‍त्‍य

RIP: मशहूर शायर बेकल उत्साही का हुआ निधन

By haribhoomi.com | Dec 03, 2016 |
bekal
नई दिल्ली. देश के मशहूर शायर पद्मश्री बेकल उत्साही का आज दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में निधन हो गया है। उनके इंतकाल की पुष्टि उनके छोटे बेटे कुंवर अजीज ने की। पूर्व राज्यसभा सदस्य रहे बेकल उत्साही को दिन पहले ब्रेन हैमरेज के कारण राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बेकल उत्साही के निधन से देश के साहित्य जगत में शोक की लहर है।
 
महानतम कवियों में से एक
हिंदुस्तान की खबर के मुताबकि, बेकल उत्साही का शव दिल्ली से बलरामपुर लाया जाएगा। वहीं बेकल उत्साही का अन्तिम संस्कार होगा। अशोक चक्रधर ने बेकल उत्साही के निधन की खबर मिलने पर कहा कि वह मेरे लिए एक पिता की तरह थे। यह एक व्यक्तिगत क्षति है। वह हमारे समय के महानतम कवियों में से एक थे।
 
कई बार जेल भी गए 
बेकल उत्साही का जन्म एक जून 1924 को हुआ था। उत्तर प्रदेश के बलरामपुर के उतरौला के रहने वाले उत्साही का असली नाम शफी खान था। गुलामी के वक्त अपने गीतों की वजह से उत्साही को कई बार जेल भी जाना पड़ा। उत्साही को कांग्रेस की ओर से 1986 में राज्यसभा का सदस्य बनाया गया था।

कई किताबें भी लिखीं
उन्होंने 1952 में विजय बिगुल कौमी गीत और 1953 में बेकल रसिया लिखी। उत्साही ने गोण्डा हलचल प्रेस, नगमा व तरन्नुम, निशात-ए-जिन्दगी, नूरे यजदां, लहके बगिया महके गीत, पुरवईयां, कोमल मुखड़े बेकल गीत, अपनी धरती चांद का दर्पण जैसी कई किताबें भी लिखीं।
 
 
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
  • Post a comment
  • Name *
  • Email address *

  • Comments *
  • Security Code *
  • NIMCP
  •       
    कमेंट्स कैसे लिखें !
    जिन पाठकों को हिन्दी में टाइप करना आता है, वे युनीकोड मंगल फोंट एक्टिव कर हिन्दी में सीधे टाइप कर सकते हैं। जिन्हें हिन्दी में टाइप करना नहीं आता वे Roman Hindi यानी कीबोर्ड के अंग्रेजी अक्षरों की मदद से भी हिन्दी में टाइप कर सकते हैं। उदाहरण के लिए यदि आप लिखना चाहें- “भारत डिफेंस कवच एक उपयोगी पोर्टल है’, तो अंग्रेजी कीबोर्ड से टाइप करें, bharat defence kavach ek upyogi portal hai. हर शब्द के बाद स्पेस बार दबाएंगे तो अंग्रेजी का अक्षर हिन्दी में टाइप होता चला जाएगा। यदि आप अंग्रेजी में अपने विचार टाइप करना चाहें तो वह विकल्प भी है।
    Haribhoomi
    Haribhoomi on Social Media
    ऐसा झटका, कहीं अपना मानसिक संतुलन न खो दें गोविंदा

    ऐसा झटका, कहीं अपना मानसिक संतुलन न खो ...

    फिल्म का बजट 22 करोड़ था लेकिन फिल्म ने दो दिनों में 50 लाख का कलेक्शन किया है।

    सिंगर अभिजीत ने कहा- तीनों खान हैं देशद्रोही, फिल्मों में बजावा रहे हैं मौला-मौला

    सिंगर अभिजीत ने कहा- तीनों खान हैं ...

    अभिजीत ने आगे कहा कि शिरीष जान बूझकर सिर्फ हिन्दुओं को ही टार्गेट करते हैं।

    अनुष्का शर्मा की फिल्म 'फिल्लौरी' सिनेमाघरों में हुई सुस्त, जानिए कितने कमाए

    अनुष्का शर्मा की फिल्म 'फिल्लौरी' ...

    फिल्लौरी एक रोमांटिक कॉमेडी फिल्म है जिसमें अनुष्का एक फ्रेंडली भूत बनी हैं।