Top

ओडिशा: पिछले साल पत्नी का शव उठाकर 10 किमी चला था ये शख्स, अब चमकी है किस्मत

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Dec 7 2017 4:15PM IST
ओडिशा: पिछले साल पत्नी का शव उठाकर 10 किमी चला था ये शख्स, अब चमकी है किस्मत

बीते साल अगस्त 2016 में ओडिया में एक आदिवासी शख्स की अपनी पत्नी के शव को लेकर 10 किलोमीटर तक चला था। जिसके बाद हर तरफ उसकी चर्चा होने लगी थी। लेकिन अब दाना मांझी की किस्मत बदल चुकी है। 

पहले उनके पास घर आया, फिर पत्नी और अब मोटर साइकिल है। ओडिशा के दलित आदिवासी मांझी गुरुवार को कालाहांडी जिले के भवानीपाटी से अपने गांव मेलघर बाइक से पहुंचे। 

ये भी पढ़ें - पीएम मोदी ने अम्बेडकर इंटरनेशनल सेंटर का किया उद्घाटन, राहुल गांधी पर कसा तंज

ये बाइक उन्होंने 65 हजार रूपये में होंडा के शो रुम से खरीदी है। यह वहीं रास्ता है जिससे वो अपनी बेटी के साथ अपनी पत्नी अमंग देई के शव को कंधे पर रखकर चला था। उनके पास एंबुलेंस तक के पैसे नहीं थे। 

लेकिन अब उनकी पुरानी जिंदगी बहुत दूर छूट चुकी है। बहरीन के प्रधानमंत्री प्रिंस खलीफा बिन सलमान अल खलीफा ने उन्हें 9 लाख रुपये की राशि दी। इसके अलावा कई अन्य संस्थान और संगठन ने भी मांझी की मदद के लिए हाथ आगे बढ़ाए। कभी मांझी के पास बैंक अकाउंट भी नहीं था। लेकिन अब फिक्स डिपोजिट किए हुए हैं। जिनपर वो हर 5 साल में पैसा मिलता रहेगा। 

ये भी पढ़ें - चीन ने भारत पर लगाया नया आरोप, ड्रोन को लेकर दिया विवादित बयान

वहीं दूसरी तरफ प्रशासन ने भी प्रधानमंभी ग्रामीण आवास योजना के तहत एक घर अलॉट किया और आर्थिक मदद के लिए हाथ भी बढ़ाए। अभी घर का निर्माण हो रहा है। फिलहाल अभी मांझी गांव के आंगनवाणी केंद्र में रह रहे हैं। 

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
life moves on for dana majhi who trekked 10 km with his wife body

-Tags:#Dana Majhi#Odisha#Tribal#Melghar#Ambulance
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo