Breaking News
Top

कर्नाटकः ''लाभ के पद'' पर होने की वजह से विधानसभा ने रोकी 21 विधायकों की सैलरी

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Sep 26 2017 11:50AM IST
कर्नाटकः ''लाभ के पद'' पर होने की वजह से विधानसभा ने रोकी 21 विधायकों की सैलरी

कर्नाटक विधानसभा ने ऐतिहासिक फैसला लेते हुए सोमवार को लाभ के पद पर काबिज 21 विधायकों की सैलरी रोकने का आदेश दिया है। 

इन विधायकों पर आरोप है कि ये सभी विधायक विभिन्न निगमों और बोर्डों के अध्यक्ष पद भी रहकर भी वेतन और अन्य भत्ते का लाभ उठा रहे थे। 

कर्नाटक विधान सभा सचिवालय ने एडवोकेट जनरल और अकाउंट जनरल से राय लेने के बाद ये फैसला किया है। राज्य सचिवालय के सूत्रों ने बताया कि राज्य सरकार के आदेश पर इन विधायकों को कैबिनेट मंत्री का दर्जा दिया गया था। 

उन्हें घर के किराए, यात्रा और फर्निचर, टेलीफोन और मेडिकल जैसे कई तरह के भत्ते दिये गये। इनमें से कुछ विधायकों ने विधान सभा सचिवालय से विधायक के तौर पर अपने वेतन और भत्ते की मांग की है।

ये सभी विधायक निगमों और बोर्डों से मिलने वाले वेतन और अन्य भत्ते के अलावे विधायक के तौर पर भी वेतन और मिलने वाली अन्य सुविधाओं की मांग कर रहे थे।

इस मामले के सामने आने के बाद विधानसभा सचिवालय ने कर्नाटक के एडवोकेट जनरल और अकाउंट जनरल से इस केस में राय मांगी। एडवोकेट जनरल ने बताया कि विधायकों को दोनों जगहों से वेतन तथा अन्य भत्ते नहीं मिल सकते हैं, क्योंकि यह गैरकानूनी है।

गौरतलब है कि देश के इतिहास में यह ऐसा पहला मामला सामने आया है जब राज्य विधानसभा ने 21 विधायकों को एक साथ सैलरी रोक दी है। 

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
karnataka assembly 21 mlas of salary stop

-Tags:#Karnataka Legislative Assembly#21 MLAs
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo