Breaking News
Top

बैड लोन से भारतीय बैंकों को नहीं मिल रही है राहत, चौंकाने वाली है सच्चाई

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Oct 11 2017 6:19PM IST
बैड लोन से भारतीय बैंकों को नहीं मिल रही है राहत, चौंकाने वाली है सच्चाई

भले ही मोदी सरकार भारतीय बैंकों को बैड लोन से मुक्त करने में जुटी है, लेकिन इस दिशा में कुछ खास सफलता मिलती नहीं दिख रही है। राइट टू इन्फॉरमेशन के जरिए जो आंकड़े सामने आ रहे हैं, वे चौंकाने वाले हैं। 

भारत में बैड लोन की राशि बढ़ कर 9.5 लाख करोड़ रुपए तक पहुंच गई है। इससे साफ है कि आने वाले समय में बैंकों को कोई बड़ी राहत नहीं मिलने जा रही है। न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक एशिया की तीसरे सबसे ठोस अर्थव्यवस्था भारत में बैड लोन को लेकर हालात अच्छे नहीं हैं। 

यह भी पढ़ें: राज ठाकरे के कार्यकर्ताओं की गुंडागर्दी, उत्तर भारतीयों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा

रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि जून 2017 तक बैड लोन की राशि 146 बिलियन डॉलर यानि 9.5 लाख करोड़ रुपए तक पहुंच गई है। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया इसकी बाकायदा समीक्षा की है। 

इस साल जून के आखिर तक बैंकों के कुल लोन में 4.5 प्रतिशत का इजाफा हुआ है। कुल लोन में रिस्ट्रक्चर्ड लोन और नॉन परफॉर्मिंग लोन भी शामिल हैं। पिछले आधे साल में ही इस तरह के लोन में 5.8 फीसदी का इजाफा हो गय़ा है। 

यह भी पढ़ें: सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला- नाबालिग पत्नी से यौन संबंध माना जाएगा बलात्कार

इससे रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया पर बैड लोन को कम करने का प्रेशर भी बढ़ गया है। यह सरकार के लिए भी खतरे की घंटी है। अगर आरबीआई बैंकों पर सख्ती करता है तो कंपनियों के कारोबार पर भी असर पड़ सकता है।

 
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
indian banks are not getting relief from bad loans

-Tags:#RBI#Indian Banks#Bad loans#loans#SBI
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo