Hari Bhoomi Logo
शनिवार, सितम्बर 23, 2017  
Breaking News
Top

भारत-चीन डोकलाम विवादः सेना ने नहीं दिया गांव खाली करने के आदेश

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Aug 11 2017 9:41AM IST
भारत-चीन डोकलाम विवादः सेना ने नहीं दिया गांव खाली करने के आदेश

डोकलाम को लेकर भारत और चीन में पिछले दो महीने से विवाद चल रहा है। इस बीच खबर आई कि सेना ने डोकलाम सीमा के पास स्थित गांवों को खाली करने का आदेश दिया है। इस खबर के आने के तुरंत बाद सेना ने इस बात से इनकार करते हुए एक सर्कुलर जारी कर कहा कि सेना ने ऐसा कोई आदेश दिया है।

इसे भी पढ़ें:- 1962 के युद्ध से मजबूत है भारतीय सेना: अरुण जेटली

नाथंग गांव के लोगों ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से 33 क्रॉप के जवानों की कई टुकड़ियां डोकलाम सीमा की ओर बढ़ते हुए देखा गया है। लेकिन आशंका जताई जा रही है कि भारत-चीन के बीच युद्ध की स्थति में आम नागरिकों को बचाने के लिए सेना की ओर से ऐसा कदम उठाया गया है। 

सेना ने किया खारिज

डोकलाम सीमा की तरफ सैनिकों की बढ़ने की खबरों को सेना ने खंडन किया है। सेना के वरिष्ठ अधिकारियों ने कहा कि यह इंडियन आर्मी का वार्षिक अभ्यास है जो इससे पहले सितंबर के महीने में किया जाता था, लेकिन इस साल थोड़ा पहले किया जा रहा है। 

इसे भी पढ़ें:- डोकलाम विवादः सेना ने दिए गांव खाली करने के आदेश

चीन ने दी धमकी

बता दें कि डोकलाम सीमा के एक किलोमीटर के दायरे में चीन ने 80 टैंट लगा दिए हैं। चीनी सेना पीपुल्स लिब्रेशन आर्मी की तरफ से डोकलाम में युद्धस्तर पर तैयारी की जा रही है। इससे पहले चीन कई बार भारत को युद्ध की धमकी दे चुका है। चीनी मीडिया की ओर से भी यह कहा जा रहा है कि भारत-चीन युद्ध की उलटी गिनती शुरू हो चुकी है। 

डोकलाम में सेना ने तैनात की जाट रेजिमेंट 

आपको बता दें कि चीन के साथ युद्ध की स्थिति से निपटने के लिए इंडियन आर्मी ने पहली बार डोकलाम सीमा पर 6 फुट लंबे जाट रेजिमेंट की तैनाती की है। जाट रेजिनेंट के इन जवानों में से कई को चीनी भाषा भी आती है। 

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
indian army order to people vacate nathnang villages in doklam

-Tags:#India China Docmal Border Dispute#Indian Army#Order to Evacuate Village
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo