Top

रोहिंग्या मुसलमानों पर भारत का UN को करारा जवाब, क्या UN दोबारा कुछ कहेगा

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Sep 12 2017 6:53PM IST
रोहिंग्या मुसलमानों पर भारत का UN को करारा जवाब, क्या UN दोबारा कुछ कहेगा

संयुक्त राष्ट्र संघ में भारत के स्थायी प्रतिनिधि राजीव के चंदर ने जैद राद अल हुसैन के बयान से असहमति जताई है। राजीव ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र के उच्चायुक्त की ओर से इस तरह की टिप्पणियों से हम आहत हैं।

उनका बयान भारत जैसे लोकतांत्रिक देश में आजादी और हकों को गलत ढंग से बढ़ावा देने वाला है। गलत और चुनिंदा रिपोर्टों के आधार पर कोई जजमेंट देना गलत है और इससे किसी भी समाज में मानवाधिकार की चिंता नहीं की जा सकती है। 

इसे भी पढ़ें: 2 हफ्तों में म्यांमार से 2.7 लाख रोहिंग्या मुस्लिमों का पलायन

जानकारी हो कि बीते सोमवार को रोहिंग्या शरणार्थियों को बाहर भेजने की भारत सरकार की कोशिश थी। उस पर संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद के प्रमुख जैद राद अल हुसैन ने कहा था कि यह गलत है। 

इसे भी पढ़ें: म्यांमार को खुद ही निकालना होगा रोहिंग्या मुसलामानों का हल, ये है वजह

बता दें कि हुसैन ने कहा था कि ऐसे वक्त में जब रोहिंग्या अपने देश में हिंसा का शिकार हो रहे हैं। तब भारत की ओर से उन्हें वापस भेजने की कोशिशों की मैं निंदा करता हूं। बता दें कि अल हुसैन ने कहा था कि भारत में फिलहाल 40,000 के करीब रोहिंग्या शरणार्थी हैं। जिनमें से 16,000 लोगों के पास रिफ्यूजी डॉक्युमेंट्स हैं।

ADS

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )

ADS

ADS

मुख्य खबरें

ADS

ADS

ADS

ADS

Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo