Top

यूएन में बोलीं सुषमा स्वराज, भारत पर्यावरण और विकास पर ज्यादा काम करने के लिए तैयार

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Sep 21 2017 2:43AM IST
यूएन में बोलीं सुषमा स्वराज, भारत पर्यावरण और विकास पर ज्यादा काम करने के लिए तैयार

भारत ने ऐतिहासिक पेरिस जलवायु परिवर्तन समझौते के प्रति बुधवार को अपनी प्रतिबद्धता दोहराते हुए कहा कि वह ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन को कम करने के लिए समझौते से आगे और उससे कहीं ज्यादा काम करने का इच्छुक है। 

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने संयुक्त राष्ट्र लीडरशिप समिट ऑन इनवॉयरमेंट पैक्ट के दौरान कहा कि भारत पर्यावरण और विकास पर चर्चा में सबसे आगे रहा है। 

ये भी पढ़ें - 7.1 तीव्रता के भूकंप से दहला मेक्सिको, मरने वालों की संख्या हुई 250 के पार

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने जून में पेरिस समझौते से अलग होने की घोषणा की थी जिसके बाद इस समझौते में अमेरिका की भूमिका पर अनिश्चितता के बीच सुषमा की यह टिप्पणी आई है। 

अमेरिका ने दलील दी थी कि इस समझौते में भारत और चीन जैसे देशों को अनुचित लाभ मिल रहा है। दुनिया में कार्बन उत्सर्जित करने वाले तीसरे सबसे बड़े देश भारत ने दिसंबर 2015 में 190 से अधिक देशों के साथ इस समझौते पर हस्ताक्षर किए थे।

जिसका लक्ष्य वैश्विक औसत तापमान में वृद्धि को रोकना और इसे दो डिग्री सेल्सियस से नीचे रखना है। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस की मेजबानी वाले शिखर सम्मेलन में भाग लेते हुए स्वराज ने कहा कि भारत पेरिस समझौते से आगे और उससे कहीं ज्यादा काम करने का इच्छुक है। 

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट कर कहा, पृथ्वी की ओर हमारी जिम्मेदारी को समझते हुए भारत जलवायु परिवर्तन के मुद्दे को बहुत गंभीरता से लेता है। उन्होंने कहा, हमने इसका जिक्र भी किया है कि भारत और फ्रांस अंतरराष्ट्रीय सौर गठबंधन पर मिलकर काम कर रहे हैं।

मैक्सको समेत तीन देशों द्विपक्षीय बैठकें की

दिन में सुषमा ने मैक्सिको, नॉर्वे और बेल्जियम के नेताओं के साथ भी द्विपक्षीय बैठकें की जिसमें मुख्य ध्यान द्विपक्षीय संबंधों पर रहा। उन्होंने मॉरीशस के प्रधानमंत्री प्रविंद जगन्नाथ से भी मुलाकात की। 

कुमार ने कहा, बेल्जियम की ओर से इस वर्ष भारत की उच्च स्तरीय यात्रा की संभावनाओं पर भी चर्चा की गई। 

सुषमा का सान मारिनो, ब्राजील, मोरक्को, मॉल्डोवा के अपने समकक्षों और अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी से भी मुलाकात करने का कार्यक्रम है। 

उनका जी-4 (ब्राजील, जर्मनी, भारत और जापान) और शंघाई सहयोग संगठन के विदेश मंत्रियों की बैठक समेत कई बैठकों में भाग लेने का भी कार्यक्रम है। 

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
india ready to work more than paris climate agreement said sushma swaraj

-Tags:#Sushma Swaraj#India#US#Paris#UN
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo