Hari Bhoomi Logo
रविवार, अप्रैल 30, 2017  
Top

कभी भी हो सकता है भारत-अमेरिका व्यापार युद्ध

haribhoomi.com | UPDATED Feb 13 2017 9:11PM IST
वाशिंगटन. डोनाल्ड ट्रंप को राष्ट्रपति बने अभी कुछ ही दिन हुए है। लेकिन उनकी व्यापार नीति साफ दिखाई दे रही है। ट्रंप सरकार उन देशों के साथ व्यापार के कड़े फैसले ले सकता है जिससे उसे नुकसान हो रहा हो। ट्रंप प्रशासन ने कहा कि वैस्विक मंदी के बीच उन देशों के साथ कारोबार में बड़ा नुकसान उठाना पड़ा है जो अमेरिका में बड़ी मात्रा में निर्यात करते हैं। अमेरिका इस व्यापार घाटे के नुकसान की भरपाई करता है।
 
 
अगर हम भारत-अमेरिका व्यापार की बात करें तो 2005 से लेकर 2015 तक भारत-अमेरिका कारोबार 29 बिलियन डॉलर से बढ़कर 65 बिलियन डॉलर पहुंच चुका है। इस व्यापार में भारत को आईटी सेवा क्षेत्र, टेक्सटाइल और महंगे रत्नों के कारोबार में बड़ा मुनाफा होता है। इसके बावजूद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच मधुर संबंध हैं। 
 
 
राष्ट्रपति पद की कमान संभालने के बाद ट्रंप ने मोदी से फोन पर बात की थी। बातचीत में अमेरिका के घाटे का मुद्दा नहीं उठा था। लेकिन हो सकता है कि आने वाले समय में यह राहत ज्यादा दिनों तक ना रहे। क्योंकि भारत समेत एशिया के कई देशों से व्यापार में अमेरिका को लगातार नुकासन उठाना पड़ रहा है।

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo