Breaking News
Top

अब अमेरिका भारत को देखा 'अपाचे' हेलीकॉप्टर, चीन को देगा सीधी टक्कर

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Aug 20 2017 8:21PM IST
अब अमेरिका भारत को देखा 'अपाचे' हेलीकॉप्टर, चीन को देगा सीधी टक्कर

भारतीय थल सेना भी जल्द ही हमलावर अपाचे हेलीकॉप्टर से लैस होगी इससे सेना की मारक क्षमता और बढ़ जाएगी। भारतीय सेना के लिए पश्चिमी मोर्चे पर अमेरिका का यह लड़ाकू हेलीकॉप्टर बेहद कारगर साबित हो सकता है।

 
इसके साथ ही, यह चीन के खिलाफ लड़ाई में इस्तेमाल किया जानेवाला पहला हथियार भी हो सकता है। इसके फौरन और आसमान से तबाही मचाने की क्षमता को देखते हुए जहां एक तरफ सेना की शक्ति में इजाफा होगी तो वहीं दूसरी तरफ युद्ध के मैदान में जीत सुनिश्चित करने में मदद मिलेगी।
 
सैन्य क्षमता में होगा इजाफा
साल 1963 में तत्कालीन सेनाध्यक्ष जेएन चौधरी ने भारतीय सेना के लिए आसमानी ताकत पर जोर दिया था। जिसमें उनका इशारा हमलावर हेलीकॉप्टर की तरफ भी था। उन्होंने जोर देते हुए कहा था कि सेना की मारक क्षमता और उसके एक जगह से दूसरी जगह तेजी से लेकर जाने में आंतरिक एयर विंग की सख्त जररूरत है। जिसमें लाइट, मीडियम और हैवी यहां तक की उन्होंने लड़ाकू हेलीकॉप्टर की जरूरत भी बताई थी।
 
वायु और थल सेना के बीच अपाचे पर गतिरोध
हालांकि, आर्मी एविएशन कॉर्प्स तो बना दी गई लेकिन हमलावर हेलीकॉप्टर तक पहुंच भारतीय सेना के लिए इतना आसान नहीं रही। मिग-35 की जगह पर हमलावर अपाचे हेलीकॉप्टर को लाया जाना है।
 
लेकिन, अपाचे हेलीकॉप्टर के नियंत्रण को लेकर भारतीय वायुसेना के साथ लंबा गतिरोध बना रहा। सितंबर 2015 में सुरक्षा मामलों की संसदीय समिति ने भारतीय वायुसेना के लिए बोइंग के 22 अपाचे हेलीकॉप्टर खरीद को मंजूरी दे दी। 
 
उस वक्त केन्द्र सरकार ने यह कहा था कि थल सेना के लिए इस हेलीकॉप्टर की खरीद की जाएगी। लेकिन, उसकी डील में लगातार देरी होती चली गई। आखिरकार गुरुवार को रक्षा अधिग्रहण परिषद् (डिफेंस एक्विजिशन काउंसिल) ने 4,168 करोड़ रूपये की डील को मंजूरी देते हुए छह अपाचे हेलीकॉप्टर पर अपनी मुहर लगा दी।
 
इन कामों में माहिर है अपाचे
अपाचे डेजर्ट और सेमी डेजर्ट इलाकों में टैंक्स और अन्य लड़ाकू वाहनों के खिलाफ मैकेनाइज्ड ऑपरेशन में ताकत को बढ़ाएगा। यह टैंक की अपेक्षा शीध्र दुश्मनों का सफाया कर सकता है। 
 
अपाचे से दूसरा जो सबसे बड़ा काम होगा वो है पर्वतों पर बने बंकरों को नष्ट करना। हालांकि, इसका अधिकतर इस्तेमाल पश्चिमी मोर्चे पर होगा लेकिन इसे लद्दाख और सिक्किम में भी बंकरों को खत्म करने के लिए चलाए जाने वाले ऑपरेशन में इस्तेमाल किया जा सकता है।
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
india buy 6 additional ah 64e apache helicopter from usa

-Tags:#America#India#China dispute#Apache helicopter
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo