Hari Bhoomi Logo
बुधवार, सितम्बर 20, 2017  
Breaking News
Top

जानिए अबू सलेम और 1993 मुंबई ब्लास्ट केस से जुड़ी 10 बड़ी बातें

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Sep 7 2017 11:50AM IST
जानिए अबू सलेम और 1993 मुंबई ब्लास्ट केस से  जुड़ी 10 बड़ी बातें

12 मार्च 1993 को मुंबई में हुए सीरियल बम धमाकों में आज गुरुवार को मुंबई की स्पेशल टाडा कोर्ट सजा का एलान करेगी। कोर्ट इस केस में डॉन अबू सलेम समेत सभी पांच दोषियों को सजा सुनाई जाएगी।

16 जून 2017 को कोर्ट ने इस केस में अबू सलेम, मुस्तफा दौसा, उसके भाई मोहम्मद दौसा, फिरोज अब्दुल राशिद खान, मर्चेंट ताहिर और करीमुल्लाह शेख को दोषी करार दिया था। जबकि इनमें से मुस्तफा दौसा की 28 जून को हार्टअटैक से मौत हो गई थी।

आइए जानते हैं मुंबई ब्लास्ट से जुड़ी खास बातें और इस केस में इन 24 सालों में क्या क्या हुआ।

1. 12 मार्च 1993 में मुंबई में हुआ ब्लास्ट 26/11 को हुए हमले से भी भयानक था। 12 मार्च को लगभग 1:30 बजे बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज की इमारत के बेसमेंट में खड़ी एक कार में जोरदार ब्लास्ट हुआ जिसके बाद पूरी इमारत में आग लग गई और 28 मंजिला इमारत में करीब 50 लोगों की मौत हो गई। उसके बाद उसी दिन 3 बजकर 40 मिनट तक लगभग 13 धमाके हो चुके थे। 

2. धमाकों के लिए बन भीड़-भाड़ वाली जगहों पर लगाए गए थे जिनमें माहिम कॉजवे, झवेरी बाजार, प्लाजा सिनेमा, सेंचुरी बाजार, काथा बाजार, होटल सी रॉक, एयर इंडिया की बिल्डिंग, होटल जुहू सेंटॉर, मछुआरा कॉलोनी, वर्ली और पासपोर्ट ऑफिस जैसी जगहें शामिल थीं।

3. इस हमले में लगभग 257 लोगों की मौत हो गई थी और 700 लोग घायल हुए थे लेकिन कुछ मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो 300 से ऊपर लोगों की मौत हुई थी और घायलों की संख्या 1400 तक रही। इस हमले में करोड़ों की संपत्ति का नुकसान हुआ था।

इसे भी पढ़ें: म्यांमार में आज मोदी का आखरी दिन, शावेदगांव पगोडा और कालीबाड़ी मंदिर में की पूजा

4. इस हमले के पीछे पाकिस्तान में रह रहे अंडरवर्ल्ड डॉन दाउद इब्राहिम का हाथ था। उसका साथ देने वाला था उसका खास मेमन। अगर धमाकों के लिए फंडिंग की बात करें तो इसकी फंडिंग साऊदी अरब में बैठे भारतीय स्मगलरों ने की थी और साथ ही पाक की खुफिया एजेंसी आईएसआई का भी हाथ बताया जाता है। आतंकियों को धमाकों की पूरी ट्रेनिंग और हथियार पाकिस्तान से मिले थे।

5. आतंकियों का प्लान था कि वो इस हमले से पूरे देश में हिन्दू-मुस्लिम दंगा फैला सकते हैं क्योंकि उस वक्त 1992 में होने वाला बाबरी विध्वंस का मामला आग की तरह फैला था और इसका फायदा आतंकी उठाना चाहते थे।

6. मेमन ने 19 आदमियों को पाक में ट्रेनिंग दी थी जिन्हें भारत भेजा गया था जिनमें से गुल नूर मुहम्मद को नव पाड़ा पुलिस ने 9 मार्च को हिरासत में ले लिया था। गुल ने पुलीिस के समक्ष पाक की काली करतूत की पोल खोली। जिसके बाद मेमन नें मुंबई में 12 मार्च को ये बड़ा हमला करवाया।

इसे भी पढ़ें: एक महीने में तीसरा रेल हादसा, जानिए तीन साल में कब-कब हुए बड़े 10 रेल हादसे

7. इस हमले में 1993 में अभिनेता संजय दत्त समेत 189 आरोपियों पर केस दर्ज हुआ था। इनमें से कुछ को बाद में बरी कर दिया गया और संजय दत्त को 1995, अप्रैल में मुंबई कोर्ट से बेल मिल गई थी। इसके बाद 2006 में एक स्पेशल टेरेरिस्ट एंड डिसरप्टिव एक्टिविटीज (प्रिवेंशन) एक्ट (टाडा) कोर्ट के तहत 123 आरोपियों के खिलाफ सुनवाई हुई।

टाडा कोर्ट के जज प्रमोद कोड़े ने 100 को दोषी करार दिया और एक को प्रोबेशन ऑफ ऑफेंडर्स एक्ट के तहत बरी कर दिया लेकिन इस मामले में 7 आरोपी अबू सलेम, मुस्तफा दौसा, अब्दुल कय्यूम, ताहिर टक्लया, करीमुल्लाह, फिरोज अब्दुल राशिद खान और रियाज सिद्दीकी के खिलाफ बाद में सुनवाई हुई क्योंकि ये आरोपी अबतक गिरफ्तार नहीं किए गए थे।

8. संजय दत्त ने मामले से जुड़े आरोपियों के हथियार अपने घर में रखे थे क्योंकि उनके इन आरोपियों से काफी गहरे संबंध थे। जांच में ,संजय दत्त के घर से 3 एके-56 राइफल, 9 मैगजीन, 450 कार्टरिज, एक 9mm की पिस्टल और 20 हैंड ग्रेनेड बरामद किए गए थे। इन्हें अबू सलेम, बाबा मूसा चौहान और समीर हिंगोरा ने इसे संजय के घर पर डिलिवर किया था

9. संजय दत्त को 19 अप्रैल 1993 में हिरासत में ले लिया गया था और उन्हें 5 साल की सजा भी दी गई थी। तमाम याचिका और सुनवाई के बाद संजय को फरवरी 2013 में सजा दी गई और 2016 में वो यरवदा जेल से रिहा हो गए।

10.अबू सलेम को नवंबर, 2005 में पुर्तगाल से प्रत्यर्पित किया गया था। पुर्तगाली नियमों के मुताबिक भारत सलेम को फांसी की सजा नहीं दी जा सकती थी.।पुर्तगाल भारत के प्रत्यर्पण निदेशालय से एक समझौते पर हस्ताक्षर करवाए, जिनमें निदेशालय ने ये वादा किया कि वो सलेम को सुनवाई के बाद फांसी की सजा नहीं दें। दाऊद इब्राहिम की बात करें तो वो भारत की पहुंच से बाहर है।

 
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
important facts about 1993 mumbai bomb blast

-Tags:#Special Tada Court#Mumbai Blast#Mumbai Blast Case#Abu Salem
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo