Breaking News
IPL 2018: चेन्नई ने हैदराबाद को हराकर जीती आईपीएल 11 की ट्रॉफीरिपोर्ट में हुआ खुलासा, कानपुर सेंट्रल ने देश के सबसे गंदे रेलवे स्टेशन में किया टॅाप, यहां देखे पूरी लिस्टकिम जोंग ने दूसरी बार दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति से की मुलाकात, ट्रंप के साथ 12 जून की मुलाकात संभवशर्मनाकः दिल्ली से सटे गुरुग्राम में ऑटो चालक ने अपने साथियों के साथ मिलकर गर्भवती महिला के साथ किया गैंगरेपभारतीय महिला की मौत के बाद आयरलैंड में हटा गर्भपात से बैन, सविता की मौत के बाद जनमत संग्रह से हुआ फैसलापीएम मोदी ने किया ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे का उद्घाटन14वें दिन भी बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, दिल्ली में 78 तो मुंबई में 86 के पार पहुंचे पेट्रोल के दामनीतीश कुमारः बैंकों की लचर कार्यप्रणाली के चलते लोगों को नहीं मिला नोटबंदी का अपेक्षित लाभ
Top

प्रद्युम्न मर्डर केस: कंडक्टर अशोक ने सुनाई आपबीती, बताया हत्या के दिन क्या-क्या हुआ

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Nov 24 2017 3:09PM IST
प्रद्युम्न मर्डर केस: कंडक्टर अशोक ने सुनाई आपबीती, बताया हत्या के दिन क्या-क्या हुआ

प्रद्युम्न की हत्या के आरोप में गिरफ्तार बस कंडक्टर अशोक ने जेल से रिहा होने के बाद गुरुग्राम पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए हैं।  

अशोक का कहना है कि उसे स्कूल के टॉयलेट में घायल पड़े बच्चे को कार तक पहुंचाने की इतनी दर्दनाक सजा मिली।

माली के कहने पर बच्चे को उठाया 

अशोक का कहना है कि हत्या वाले दिन वह मेन गेट से घुसकर बाथरूम में जा रहा था। तभी बाथरूम के बाहर उसे स्कूल का माली हरपाल मिला। हरपाल ने ही उसे बच्चे को उठाकर बाहर तक ले चलने को कहा था।

यह भी पढ़ें- महाराष्ट्र के भिवंडी में तीन मंजिला इमारत ढही, 1 की मौत और 3 घायल 

घायल बच्चे की हालत देख अशोक उसे गोद में उठाकर टीचर की कार में रखने के लिए गया। 

पुलिस ने की बर्बरता

अशोक का कहना है कि वह 8 सितंबर भयानक दिन कभी नहीं भूल सकता। अशोक के मुताबिक, वारदात के बाद दोपहर करीब 11 बजे अचानक 4 से 5 पुलिसवाले स्कूल के कमरे में मुझसे ही सवाल पूछने लगे कि हत्या के समय तुम कहां थे, तुमने क्या किया और क्या देखा? 
 
इसके बाद वो मुझे खींचते हुए अपनी गाड़ी में डाल कर सोहना थाने ले गए। थाने पहुंचने पर अंदर जाने के बाद एक के बाद एक सभी ने मुझे थप्पड़ मारने शुरू कर दिए।  

मुझे उन लोगों ने काफी देर तक मारा और कहा कि बोल तूने ही बच्चे को मारा है।

यह भी पढ़ें- बरेली: ड्यूटी जा रही नर्स से तमंचे की नोक पर किया गैंगरेप 

पुलिस ने मुझे कई बार करंट तक लगाया, जिससे मैं बच्चे की हत्या का जुर्म कबूल कर लूं। इसके बाद उन्होंने मेरे हाथ पर इंजेक्शन लगाया, जिससे मुझे नशा हो गया। नशे में पुलिस ने मुझसे क्या-क्या बुलवा लिया, मुझे याद भी नहीं है।

वीडियो साभार: ANI 



ADS

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
gurugram ryan international school conductor ashok tells about pradyumans murder day

-Tags:#Pradyuman Murder Case#CBI#Gurugram#Ryan International School

ADS

ADS

मुख्य खबरें

ADS

ADS

ADS

ADS

Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo