Breaking News
Top

80 साल से वेश्यावृत्ति करने के लिए मजबूर हैं गुजरात की ये महिलाएं

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Sep 26 2017 5:15PM IST
80 साल से वेश्यावृत्ति करने के लिए मजबूर हैं गुजरात की ये महिलाएं
गुजरात आज अपने विकास मॉडल के लिए देश में ही नहीं, दुनियाभर में मशहूर है। लेकिन, यहां का एक गांव है, जिसकी महिलाएं पिछले 80 साल से वेश्यावृत्ति करने के लिए अभिशप्त हैं। 
 
गुजरात के इस गांव का नाम है वाडिया। गांधीनगर से 250 किलोमीटर दूर बांसकांठा जिले के वाडिया को तवायफों के गांव के नाम से भी जाना जाता है। 
 
हैरानी की बात यह है कि इस गांव में जन्म लेने वाली हर लड़की वेश्यावृत्ति को अपनाने के लिए अभिशप्त है। हालात यह है कि कई लड़कियां तो 12 साल की उम्र में ही मां बन जाती हैं।
 
 
बीबीसी की एक खबर के मुताबिक इस गांव के मर्द तो दलाल के रूप में ही काम करते हैं। इस गांव की आबादी करीब 600 लोगों की ही है। यह गांव इतना बदनाम हो गया है कि यहां विकास का कोई काम देखने को नहीं मिल रहा है। 
 
खास बात यह है कि यहां की औरतें बदलाव तो चाहती हैं, लेकिन इन्हें साथ किसी का नहीं मिलता है। इनके ग्राहक महंगी गाड़ियों से यहां आते तो हैं, लेकिन इनके उद्धार के लिए कोई काम नहीं करता है। 
 
बांसकांठा के पुलिसकर्मियों की दलील है कि वेश्यावृत्ति इस गांव के समाज में ही घर कर गई है। कोई सुधार के लिए आगे नहीं आना चाहता है। ऐसे में हम छापेमारी के अलावा कुछ नहीं कर पाए हैं।
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
gujarat women of this village are cursed for prostitution for 80 years

-Tags:#Gujarat#Gandhi Nagar#Prostitution
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo