Breaking News
Top

गुजरात विधानसभा चुनाव 2017: इन चार कारणों से बिगड़ जाएगा भाजपा का खेल

नरेंद्र सांवरिया/नई दिल्ली | UPDATED Oct 8 2017 1:16PM IST
गुजरात विधानसभा चुनाव 2017: इन चार कारणों से बिगड़ जाएगा भाजपा का खेल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आज गुजरात दौरे का दूसरा दिन है। पिछले एक महीने में मोदी तीसरी बार गुजरात आए, जबकि प्रधानमंत्री बनने के बाद पहली बार अपने जन्मस्थल वडनगर गए।

दरअसल इस साल के आखिर तक दिसंबर में होने वाले गुजरात विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा पूरी तरह से तैयार रहना चाहती है, क्योंकि अब ये चुनाव पार्टी के लिए नाक की लड़ाई बन गया है।

पीएम मोदी के दौरे से पहले ही कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी द्वारका में भगवान कृष्ण की पूजा कर गुजरात दौरे का श्रीगणेश कर चुके हैं और गुजरात विधानसभा चुनाव का बिगुल भी फूंक दिया है।

वहीं गुजरात में पाटीदार आरक्षण आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल भी भाजपा के लिए मुश्किलें खड़ी कर रखी हैं। इनके अलावा आम आदमी पार्टी भी कुछ सीटों पर अपना कब्ज़ा ज़माने में जुटी हुई है। 

दूसरी तरफ मायावती की बहुजन समाज पार्टी भी भाजपा को दलित विरोधी बताकर उनका गणित ख़राब करने में जुटी हुई हैं। बेशक मायावती की पार्टी को वहां एक भी सीट न मिले, वोट का विभाजन हो सकता है।

जबकि शरद यादव की अगुवाई वाले जनता दल (यू) के धड़े के कार्यकारी अध्यक्ष और गुजरात से विधायक छोटू भाई वासावा भी भाजपा का खेल ख़राब करने के लिए मैदान में डटे हुए हैं।

इन सभी को देखते हुए अब गुजरात विधानसभा चुनाव जीतना पीएम मोदी के साथ साथ भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के लिए भी प्रतिष्ठा का सवाल बन गया है।

अमित शाह कल सोमवार से गुजरात के दौरे पर होने, इसलिए अब इन्हीं दोनों के कंधों पर गुजरात चुनाव फ़तेह करने का दारोमदार है। इसके साथ ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ भी गुजरात चुनाव को लेकर सजग है।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
gujarat assembly election 2017 narendra modi amit shah master plan

-Tags:#Gujarat Assembly Election 2017#Modi Gujarat Visit#Narendra Modi#Amit Shah#Congress
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo