Hari Bhoomi Logo
शुक्रवार, सितम्बर 22, 2017  
Breaking News
Top

WHO की रिपोर्ट में खुलासा, ब्रेस्ट फीडिंग नहीं करने से सरकार को हो रहा है करोड़ों डॉलर का नुकसान

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Aug 2 2017 5:48PM IST
WHO की रिपोर्ट में खुलासा, ब्रेस्ट फीडिंग नहीं करने से सरकार को हो रहा है करोड़ों डॉलर का नुकसान

संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट में हुआ है है कि भारत में हर साल लगभग एक लाख बच्चे ऐसी बीमारियों से मरते हैं, जिन्हें स्तनपान के जरिए रोका जा सकता है। 

इसके साथ ही रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि अपर्याप्त स्तनपान के कारण होने वाली मौतों और अन्य नुकसानों से देश की अर्थव्यवस्था को 14 अरब डॉलर तक का नुकसान पहुंच सकता है।

यूनिसेफ और विश्व स्वास्थ्य संगठन ने ग्लोबल ब्रेस्टफीडिंग कलेक्टिव के साथ मिलकर एक नई रिपोर्ट ‘ग्लोबल ब्रेस्टफीडिंग स्कोरकार्ड' जारी की है।

इसे भी पढ़ें- सावधान: मां का दूध खराब करता है बच्चों के दांत

इसमें कहा गया है कि स्तनपान से न सिर्फ डायरिया और निमोनिया से बचने में मदद मिलती है, बल्कि मांओं के लिए गर्भाशय के कैंसर और स्तन कैंसर के खतरे भी कम हो जाते हैं।       

चीन, भारत, नाइजीरिया, मैक्सिको और इंडोनेशिया में अपर्याप्त स्तनपान के कारण हर साल 2.36 लाख बच्चों की मौत हो जाती है।       

इन देशों में अपर्याप्त स्तनपान के कारण होने वाली मौतों और अन्य नुकसानों की वजह से अर्थव्यवस्था को प्रति वर्ष पहुंचने वाला नुकसान लगभग 119 अरब डॉलर का है।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
government is losing millions of dollars due to less breast feeding says who report

-Tags:#Indian Economy#UNICEF#WHO
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo