Breaking News
उत्तर प्रदेश: जौनपुर में सड़क दुर्घटना में एक ही परिवार के तीन लोगों की मौतमध्य प्रदेश: छतरपुर में पुलिस कांस्टेबल की गोली मारकर हत्या, 2 आरोपी गिरफ्तार, जांच जारीकानपुर: मुलगंज में एक प्लास्टिक गोदाम में भीषण आग, बचाव और राहत कार्य जारीबिहार: पंचायत ने एक व्यक्ति को सरेआम थूक चटवाया और चप्पलों से पिटवाया, सामने आया मामलाबिहार: डॉक्टर की हत्या को लेकर समस्तीपुर में भारी बवाल, 20 गाड़ियां आग के हवालेकेदारनाथ पहुंचे पीएम मोदी, जनसभा को करेंगे संबोधितचिदंबरम के ट्वीट पर बोले गुजरात सीएम- चुनाव से डर रही कांग्रेसतमिलनाडु: नागपट्टिनम में बस डिपो रेस्ट रुम की छत गिरने से 8 की मौत
Top

सर्ज‌िकल स्ट्राइक के हीरो लेफ्टिनेंट जनरल डीएस हुड्डा, जब भी बंदूक उठाई दुश्मनों को नानी याद आ गई

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Sep 27 2017 4:31PM IST
सर्ज‌िकल स्ट्राइक के हीरो लेफ्टिनेंट जनरल डीएस हुड्डा, जब भी बंदूक उठाई दुश्मनों को नानी याद आ गई

इंडियन आर्मी ने पाकिस्तान के बाद अब म्यांमार सीमा पर सर्जिकल स्ट्राइक किया है। इस ऑपरेशन में नागा विद्रोहियों को निशाना बनाया गया है। आर्मी सूत्रों के मुताबिक इंडो-म्यांमार सीमा पर नागा विद्रोहियों के कैंप उड़ा दिए गए हैं। 

 
इससे पहले भारतीय सेना ने पाकिस्तान पर सर्जिकल स्ट्राइक किया था। आज हम आपको सर्जिकल स्ट्राइक के हीरो के बारे में बताने जा रहे हैं जिनके नेतृत्व में भारत ने पहली सर्जिकल स्ट्राइक की थी।
 
दरअसल पाकिस्तान पर होने वाली पहली सर्जिकल स्ट्राइक उत्तरी कमान के रिटायर्ड कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल डीएस हुड्डा के नेतृत्व में हुई थी। 
 
 
उन्होंने कुछ ही दिन पहले सर्जिकल स्ट्राइक की जानकारियों को मीडिया से साझा किया था। डीएस हुड्डा ने बताया कि सर्जिकल स्ट्राइक को 28-29 सितंबर 2016 की रात को अंजाम दिया गया।
 
उस रात को भारतीय सेना ने 10 विविध इलाकों में आतंकी कैंपों को नष्ट करने के लिए हमला किया था।
 
 
हुड्डा ने बताया कि पाक को उम्मीद नहीं थी कि भारत ऐसा कर सकता है। उन्होंने बताया कि उस दिन सारी रात मैं बेचैन था। उन्हें इस बात कि रह-रह के चिंता सता रही थी कि कोई जवान पीछे न छूट जाए। उन्होंने कहा कि 10 आतंकियों को मौत के घाट उतारने के बाद भी अगर ऐसा दो जाता तो हम इस ऑपरेशन को असफल मानते।
 
हुड्डा ने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक की वजह से भारतीय सेना के जवानों का मनोबल काफी ऊंचा है। उन्होंने कहा कि भविष्य में कभी भी दूसरी सर्जिकल स्ट्राइक हो सकती है।
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
father of surgical strike read how surgical strike happened in pakistan

-Tags:#myanmar#surgical strike
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo