Breaking News
भारतीय क्रिकेटर मोहम्मद शम्मी के खिलाफ पति से विवाद मामले में कोर्ट ने जारी किया समनएयरफोर्स का MiG-21 क्रैश, पायलट लापता, करीब एक घंटे से जारी खोजबीनCM नीतीश कुमार ने बिहार में किन्नरों को सुरक्षा गार्ड बनाने को लेकर की बैठकपीएम मोदी पहुंचे संसद भवन, कहा- देशहित में बहस जरूरी, सार्थक बहस करे विपक्षशशि थरूर ने हिंदू 'पाकिस्तान राष्ट्र' के बाद 'हिंदू तालिबान' को लेकर दिया विवादित बयानकर्नाटकः बस स्टैंड में लड़कियों को छेड़ रहे थे, पुलिस ने 6 मनचलों को किया गिरफ्तारकेरलः भारी बारिश के कारण प्राइवेट और सरकारी स्कूल को बंद करने का निर्देशग्रेटर नोएडा हादसा: 6 मंजिला इमारत गिरने से अब तक 3 लोगों की मौत, NDRF की टीम पहुंची
Top

सावधान: साल 2018 में आएंगे सबसे ज्यादा भूकंप, वजह जानकर रह जाएंगे हैरान

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Nov 21 2017 7:59AM IST
सावधान: साल 2018 में आएंगे सबसे ज्यादा भूकंप, वजह जानकर रह जाएंगे हैरान

 साल 2017 का अभी अंत भी नहीं हुआ है। इससे पहले भी साल 2018 में होने वाली घटना की भविष्यवाणी भी हो गई है। खबर है कि अगले साल 2018 और उसके बाद दुनिया के कई हिस्सों में बड़े भूकंप आ सकते हैं।

दुनिया में भूकंप आने का सबसे बड़ा कारण पृथ्वी के घूमने की रफ्तार कम होना बताया जा रहा है। इस बात की जानकारी वॉर्निंग साइंटिस्ट्स ने दी है।

वॉर्निंग साइंटिस्ट्स ने कहा है कि पृथ्वी के घूमने की रफ्तार और दुनियाभर में भूकंप संबंधी चीजों में सीधा संबंध होता है।

उन्होंने आगे कहा कि पृथ्वी के घूमने की रफ्तार में कमी आ रही है। यह हर दिन कुछ मिलि-सेकंड्स कम हो रही है। जिससे ये खतरा और ज्यादा बढ़ रहा है।

लेकिन, यही मिनट्स अंडरग्राउंड एनर्जी को बाहर आने में बड़ी मदद कर सकते हैं। वहीं रेबेका और रोजर ने भी इस तरह की भविष्यवाणी की है। 

उन्होंने कहा कि पिछली सदी में पांच बार ऐसा हुआ जब 7 मैग्नीट्यूड के भूकंप आए। हर बार इन भूकंप का संबंध पृथ्वी की घूमने की रफ्तार से जुड़ा पाया गया। 

हालांकि, अभी तक साइंटिस्ट्स ने जिन भूकंप की बात की है वो किस देश और कहां आएंग। इसके बारे में कोई जानकारी नहीं दी है। 

 

ADS

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
earthquakes prediction for 2018 university reseach report

-Tags:#Earthquake#Earth#America#Scientist#montana#geological#India

ADS

ADS

मुख्य खबरें

ADS

ADS

ADS

ADS

Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo