Breaking News
महाराष्ट्रः पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों पर CM देवेंद्र फडणवीस ने दिया बड़ा संकेत, ये है GST लागू होने पर नुकसानप्रतिनिधिमंडल के साथ दो दिवसीय दौरे पर भारत पहुंचे नीदरलैंड के PM मार्क रुट, पीएम मोदी के साथ करेंगे बैठकPM मोदी ने क्रिकेटर विराट कोहली का फिटनेस चैलेंज किया स्वीकार, लिखा- चैलेंज स्वीकार जल्द शेयर करुंगा वीडियोपेट्रोल-डीजल के दामों में 11वें दिन भी जारी बढ़ोत्तरी, पेट्रोल 30 पैसा और डीजल 19 पैसा हुआ मंहगा10वीं दिन भी पाक की तरफ से सीजफायर का उल्लंघन, नौशेरा सेक्टर में 1 घायललगातार हार से कांग्रेस में फंड का टोटा, AICC ने प्रदेश कमेटी के ऑफिस का खर्चा-पानी बंद कियाझारखंड को मिलेगी 27000 करोड़ की सौगात, 25 मई को पीएम मोदी करेंगे शिलान्यासRSS का राहुल गांधी पर तीखा हमला, कहा- खोई जमीन वापस पाने के लिए समाज को बांटने की कोशिश
Top

दिल्ली हाईकोर्ट ने जारी किया नोटिस, फ्री सैनिटरी पैड की मांग पर केंद्र और दिल्ली सरकार दे जवाब

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Jul 18 2017 2:33AM IST
दिल्ली हाईकोर्ट ने जारी किया नोटिस, फ्री सैनिटरी पैड की मांग पर केंद्र और दिल्ली सरकार दे जवाब

दिल्ली हाईकोर्ट ने केंद्र और दिल्ली सरकार को उस याचिका पर नोटिस जारी कर जवाब दाखिल करने को कहा है जिसमें कहा गया है कि सरकार को निर्देश दिया जाना चाहिए।

 
ताकि स्कूली बच्चियों को मासिक धर्म आदि के बारे में एजुकेट किया जाए और साथ ही राइट टू एजुकेशन एक्ट के तहत उन्हें फ्री सैनिटरी पैड मुहैया कराई जाए ताकि बच्चियां प्यूबर्टी की उम्र में स्कूल न छोड़ें।
 
दिल्ली हाईकोर्ट की एक्टिंग चीफ जस्टिस गीता मित्तल और जस्टिस सी. हरि शंकर की बेंच ने इस मामले में केंद्र और दिल्ली सरकार से 7 नवंबर तक स्टेटस रिपोर्ट पेश करने को कहा है।
 
मौजूदा स्कीम की मांगी डिटेल
बेंच ने सरकार के मौजूदा स्कीम के बारे में डीटेल पेश करने को कहा है। अगर कोई स्कीम है तो उस बारे में बताएं साथ ही क्या स्कीम लागू है ये बताया जाए। 
 
 
साथ ही बताया जाए कि मासिक धर्म के बारे में मौजूदा सिलेबस क्या है। बच्चियों के अलग टॉइलट का क्या स्टेटस है और साथ ही फ्री सैनिटरी पैड के बारे में क्या मेकनिजम है। 
 
पीआईएल में कहा गया है कि बड़ी संख्या में बच्चियां स्कूल छोड़ देती हैं ऐसे में इन बच्चियों को मासिक धर्म और स्वास्थ्य विज्ञान के बारे में बताया जाए। राइट टू एजुकेशन ऐक्ट के तहत फ्री में सैनिटरी पैड मुहैया कराई जाए। 

ADS

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
delhi high court issues notice to centre and delhi govt seeking free sanitary pads

-Tags:#Hight Court#Free Sanitary Pad

ADS

ADS

मुख्य खबरें

ADS

ADS

ADS

ADS

Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo