Breaking News
Top

बड़ा भयावह है भारत में नवजात बच्चों के मरने का आंकड़ा, मप्र-यूपी हैं टॉप पर

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Oct 3 2017 4:38PM IST
बड़ा भयावह है भारत में नवजात बच्चों के मरने का आंकड़ा, मप्र-यूपी हैं टॉप पर
भारत में नवजात बच्चों के मरने का आंकड़ा बड़ा ही भयावह है और इसमें मध्य प्रदेश और यूपी सबसे टॉप पर है। आंकड़ों पर गौर करें तो इस वित्तीय वर्ष के पहले चार महीनों में देशभर में कम से कम 75,493 नवजात बच्चों की मौत हो चुकी है।
 
अकेले मध्य प्रदेश में 9,269 बच्चे काल के गाल में समा गए हैं। सूचना के अधिकार के तहत ये डराने वाले आंकड़े सामने आए हैं। हैरान करने वाली बात यह है कि 64,093 बच्चों की मौत एक साल से कम उम्र में हुई है।
 
महाराष्ट्र में भी 5,547 बच्चों को नहीं बचाया जा सका है। यूपी में 8,440 बच्चों के मरने का आंकड़ा सामने आया है। गुजरात में बच्चों के मरने की संख्या 6,755 दर्ज की गई है।
 
वहीं देश की राजधानी दिल्ली में 1,635 नवजात बच्चे इस दुनिया को अलविदा कह गए। सामाजिक कार्यकर्ता चेतन कोठारी को सूचना के अधिकार के तहत और भी चौंकाने जानकारी वाली जानकारी मिली है। 
 
इन बच्चों की मौत की बहुत बड़ी वजह जन्म के समय कम वजन और समय पूर्व जन्म लेना है। एक से पांच साल के बच्चों में भी मौत का आंकड़ा कम नहीं है। 2014-15 में ही 16,042 बच्चे मरे थे, जो 2015-16 में बढ़कर 17,744 हो गए। हैरानी है कि 2016-17 में यह और बढ़कर 18,739 पहुंच गया। 
 
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
death rate of newborn children in india so highe mp up is on top

-Tags:#Infant Deaths#India#Maharashtra#Madhya Pradesh#Uttar Pradesh#Delhi#Gujarat
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo