Breaking News
Top

भारत 2022 तक गरीबी, जातिवाद और सांप्रदायिकतावाद से मुक्त हो जाएगा: नीति आयोग

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Nov 4 2017 6:03PM IST
भारत 2022 तक गरीबी, जातिवाद और सांप्रदायिकतावाद से मुक्त हो जाएगा: नीति आयोग

भारत सरकार के थिंक टैंक नीति आयोग 2022 तक एक ऐसे भारत की परिकल्पना की है, जो जातिवाद और सांप्रदायिकतावाद से पूरी तरह मुक्त होगा। 

इसके लिए नीति आयोग ने शनिवार को दिल्ली में न्यू इंडिया ऐट 2022 नाम से एक विजन डॉक्यूमेंट पेश किया।

नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने इस मौके पर कहा कि साल 2022 तक भारत गंदगी, भ्रष्टाचार, गरीबी, सांप्रदायिकतावाद, जातिवाद और आतंकवाद से पूरी तरह से मुक्त हो जाएगा।

राजीव कुमार ने आगे कहा कि अगर हम अपनी आर्थिक विकास दर 8 फीसदी के करीब बनाए रखने में कामयाब रहें, तो 2047 तक भारत दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगी।

नीति आयोग के विजन डॉक्यूमेंट की विशेष बातें -

* साल 2022 तक  भारत कुपोषण मुक्त हो जाएगा 

* साल 2019 तक प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना से  देश का हर गांव जुड़ जाएगा

* साल 2022 तक भारत के 20 से ज्यादा उच्च शिक्षा संस्थान विश्व स्तरीय हो जाएंगे 

* साल 2022 तक प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के तहत आने वाले गांव 'मॉडल विलेज' बन जाएंगे।

* भारत कारोबार सुगमता के मामले में 50 शीर्ष  देशों में शामिल हो सकता है।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
corruption racism and poverty will be eradicated from india till 2022 says niti aayog

-Tags:#Think Tank#NITI Aayog#Policy Commission#New India#Rajiv Kumar
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo