Breaking News
उत्तराखंड: चमोली में बादल फटने की वजह से भूस्खलन, अलर्ट जारीNo Confidence Motion: गिरिराज सिंह ने राहुल गांधी पर ली चुटकी, बोले- भकूंप के मजे के लिए तैयारDaati Maharaj Case: कोर्ट ने CBI जांच वाली याचिका पर जारी किया नोटिस, मांगा जवाबमानसून सत्र 2018ः No Confidence Motion पर संसद में बहस जारीNo Confidence Motion: कांग्रेस को मिले समय पर खड़गे ने उठाए सवाल, कहा- 130 करोड़ लोगों के लिए 38 मिनट पर्याप्त नहींNo Confidence Motion: शिवसेना ने किया वहिष्कार, कहा- सदन की कार्यवाही में नहीं लेंगे हिस्साअविश्वास प्रस्ताव को प्रश्नकाल की तरह समय देने पर मल्लिकार्जुन खड़गे ने उठाए सवालमोदी सरकार की पहली 'परीक्षा' के लिए राहुल गांधी के 'भूकंप' लाने वाले सवाल लीक
Top

अजीत डोभाल पर चीनी मीडिया का वार, कहा- भारत-चीन विवाद के पीछे डोभाल

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Jul 26 2017 8:10AM IST
अजीत डोभाल पर चीनी मीडिया का वार, कहा- भारत-चीन विवाद के पीछे डोभाल

भारत चीन विवाव दिनों दिन बढ़ता जा रहा है अब एक बार फिर चीन की मीडिया ने भारत पर निशाना साधना है। चीनी मीडिया ने डोकलाम विवाद के पीछे राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल को बताया है।

इसे भी पढ़ें- तमिलनाडु के स्कूलों में अनिवार्य होगा 'वंदे मातरम': मद्रास हाईकोर्ट

ग्लोबल टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, डोभाल को डोकलाम विवाद का मुख्य साजिशकर्ता बताया है। इसके साथ ही इस आर्टिकल में ब्रिक्स एनएसए की मीटिंग में सिक्किम सीमा विवाद में सुलह का रास्ता निकाले जाने की अटकलों को भी खारिज किया है।

तो वही दूसरी तरफ चीनी विदेश मंत्रालय ने कहा कि जहां तक हमारी जानकारी है, पिछली बैठकों में मेजबान देश प्रतिनिधिमंडलों के प्रमुखों की द्विपक्षीय बातचीत के लिए इंतजाम करता रहा है।

जिसमें वे द्विपक्षीय संबंधों, ब्रिक्स में सहयोग आदि पर चर्चा करते हैं। इस नए लेख के सामने आने के बात बात-चीत द्वारा इस विवाद को सुलझाए जाने की अटकलों को एक झटका लगा है।

अगर डोभाल इस संबंध में मोलभाव करना चाहते हैं तो वह निश्चित तौर पर निराश होंगे। चीन की पहली मांग यही है कि भारत बिना किसी शर्त के अपनी सेना हटाये। 

इसे भी पढ़ें- तमिलनाडु के किसानों को सुप्रीम कोर्ट ने दिया करारा झटका

आर्जिकल में बताया गया है कि भारतीय मीडिया अपनी सेना को पीछे हटाने के सम्मान जनक तरीके ढूंढ रहा है। अगर भारत अंतर्राष्ट्रीय कानून को मानता है तो उसके सेना पीछे हटाने से दुनिया को उसकी शराफत का एक नमूना देखने को मिलेगा। 

ADS

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
chinese media says doval visit would not sway china over border standoff

-Tags:#India#China#Global Times

ADS

ADS

मुख्य खबरें

ADS

ADS

ADS

ADS

Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo