Hari Bhoomi Logo
शनिवार, सितम्बर 23, 2017  
Top

डोकलाम विवाद: चीन नहीं कर पायेगा अमेरिका को अपने पाले में

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Jul 22 2017 12:01PM IST
डोकलाम विवाद: चीन नहीं कर पायेगा अमेरिका को अपने पाले में

डोकलाम में अधिग्रहण को ले कर एक के बाद एक चीन के कई भ्रम टूट रहे हैं।  जब चीन ने डोकलाम में सड़क निर्माण के जरिये वहां अधिग्रहण की कूटनीति अपनानी चाही तो उसे बिलकुल भी अंदाजा नहीं था कि भारत इस मुद्दे पर कोई भी विरोध दर्ज करेगा, लेकिन हुआ इसका ठीक उल्टा। 

पिछले एक महीने से जहाँ सिक्किम सीमा पर भारत और चीन की सेनाएं आमने सामने हैं और वार्ता के सारे प्रयास निष्फल हो रहे हैं।  ऐसे में चीन को पश्चिमी देशों सहित यूएस से भी सहायता की काफी उम्मीदें थीं, जो टूटती नजर आ रही हैं। 

इसे भी पढ़ें: क्या बिल क्लिंटन ने दिया था नवाज़ शरीफ को 5 अरब डॉलर का ऑफर?

दरअसल संयुक्त राज्य अमेरिका के वॉशिंगटन में आयोजित वार्षिक यूएस-चीन आर्थिक वार्ता निष्फल रहने के कारण चीन को अमेरिका से मदद न मिलने आ अंदेशा हो चुका है। 

इस वार्षिक यूएस-चीन आर्थिक वार्ता में अमेरिका ने चीन से मांग की थी कि वह अपने निर्यातकों द्वारा उत्पन्न हुई कमी को ठीक करने की कोशिश करें। 

इस वार्ता के बाद दोनों देश के अधिकारी एक सम्मिलित प्रेस वार्ता करने वाले थे जिसे बिना सूचना के ही कैंसिल कर दिया गया। वॉशिंगटन के इंस्टिट्यूट ऑफ चाइना अमेरिका स्टडीज के वरिष्ठ विशेषज्ञ सौरभ गुप्ता ने बताया कि अब कुछ भी ऐसा नहीं है जो बताने के लिए शेष अतः वार्ता कैंसिल हो गई।  

इसे भी पढ़ें: सुषमा ने किया खुलासा, भारत ने क्यों अपनाया चीन के प्रति कड़ा रुख

उन्होंने कहा कि अमेरिका चीन के प्रति सख्त व्यवहार कर रहा है और मुझे ऐसा प्रतीत होता है कि चीन भी अड़ गया है।'

उल्लेखनीय है कि चीन ने अपना पाप भारत के सर मढ़ते हुए उस पर आरोप लगाया था कि भारतीय सेना ने उसकी सीमा में घुसपैठ की है। 

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
china loose hope on us to support on doklam stand off

-Tags:#China News#US News#India News
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo