Breaking News
Top

चीन आतंकी मसूद अजहर के लिए बना ढाल, बोला भारत- आतंकवाद को शह देना उसके लिए होगा खतरनाक

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Nov 3 2017 4:20AM IST
चीन आतंकी मसूद अजहर के लिए बना ढाल, बोला भारत- आतंकवाद को शह देना उसके लिए होगा खतरनाक

चीन एक बार फिर आतंकी मसूद अजहर के लिए ढाल बन गया है। जैश-ए-मोहम्मद चीफ और पठानकोट आतंकी हमले के मास्टरमाइंड अजहर को वैश्विक आतंकवादी की सूची में डालने को लेकर अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन की पहल को चीन ने फिर ब्लॉक कर दिया है।

मसूद पर नकेल कसने के लिए भारत के प्रयास पर बार-बार अड़ंगा लगाने वाले चीन ने कहा है कि अभी इस मुद्दे पर आम सहमति नहीं बन पाई है।

यह भी पढ़ें- दिल्ली हाईकोर्ट ने कहा- हर अनचाहा शारीरिक संपर्क यौन उत्पीड़न नहीं

अमेरिका पहले ही डाल चुका है आतंकी संगठनों की सूची में 

अजहर द्वारा स्थापित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद को अमेरिका पहले ही प्रतिबंधित आतंकी संगठनों की सूची में डाल चुका है। चीन ने अगस्त में अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन समर्थित प्रस्ताव पर तकनीकी रोक को 3 महीने के लिए बढ़ा दिया था। इससे पहले फरवरी में भी उसने यही किया था।

चीनी विदेश मंत्रालय के सूत्रों ने कहा,'चीन ने इस प्रस्ताव को खारिज किया क्योंकि अभी आम सहमति नहीं है।' चीन की 3 महीने की तकनीकी रोक आज ही खत्म हो रही है।

यह भी पढ़ें- पाकिस्तान पर गरजे राजनाथ सिंह कहा- अब सफेद झंडा नहीं गोलियों से सिखाएंगे सबक

अधिकारी के इस बयान से संकेत मिलता है कि चीन संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की 1267 कमिटी में आवेदन पर वीटो लगाएगा। यह लगातार दूसरा साल है जब चीन ने इस प्रस्ताव को ब्लॉक किया है। पिछले साल चीन ने इसी कमिटी के सामने भारत के आवेदन पर अड़ंगा लगाया था।

चीन ने कहा आम सहमति नहीं बन पाई

इससे पहले चीन विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने मीडिया से कहा,'हमने तकनीकी रोक इसलिए लगाई थी ताकि कमिटी और मेंबर्स को इस मुद्दे पर विचार के लिए अधिक समय मिले, लेकिन अभी भी आम सहमित नहीं बन पाई है।

चीन का बचाव करते हुए हुआ ने कहा कि उनके देश का ऐक्शन संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की 1267 कमिटी के प्रभाव और संरक्षण को सुनिश्चित करने के लिए है। उन्होंने कहा,'हम कमिटी के फैसलों और इसकी प्रक्रिया का अनुसरण करते रहेंगे।

यह भी पढ़ें- गुजरात चुनाव: राहुल बोले- मोदी के पास पुलिस, आर्मी और सरकार जबकि हमारे पास सच्चाई

कमिटी के अपने नियम हैं। कमिटी को अभी भी सर्वसम्मति पर पहुंचना है। अजहर को वैश्विक आतंकी सूची में डालने के प्रयास को चीन ने इस साल पहले फरवरी और फिर अगस्त में वीटो लगाकर बाधित कर दिया था।

चीनी प्रवक्ता के बयान से यह संकेत मिलता है कि राष्ट्रपति शी चिनफिंग के दूसरे कार्यकाल में भी चीन अजहर के मुद्दे पर भारत और अमेरिका सहित दूसरे देशों के प्रयासों पर वीटो लगाता रहेगा। चीन ने पूर्व में भारत से कहा था कि इस मुद्दे पर पाकिस्तान से सीधी बात करे।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
china blocks india efforts at un on jaish chief masood azhar

-Tags:#China#India#United Nations#Jaish Chief#Masood Azhar#Terrorist
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo