राजनांदगांव

जंगल-पहाड़ की रजिस्ट्री होगी रद्द, हरिभूमि की पहल पर मुख्यमंत्री ने दिए जांच के आदेश

By haribhoomi.com | May 22, 2016 |
registry
राजनांदगांव. डोंगरगढ़ ब्लॉक के जंगल और पहाड़ की रजिस्ट्री अब रद्द होगी। खुलासे के बाद मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने शनिवार को प्रशासन को इस पूरे प्रकरण की उच्च स्तरीय जांच कराने के निर्देश दिए हैं। गौरतलब है कि हरिभूमि ने इस मुद्दे को प्रमुखता से प्रकाशित किया था। इसके बाद शनिवार को लोक सुराज अभियान के दौरान मुख्यमंत्री ने सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।
 
सीएम ने साफ तौर पर कहा है कि इस गोरखधंधे में जुड़े जमीन दलालों और अधिकारियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने जंगल और पहाड़ की रजिस्ट्री निरस्त करने का भी आदेश दिया है।
 
लोक सुराज अभियान के तहत राजनांदगांव जिले के दौरे पर शनिवार को यहां आए मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक में सैकड़ों एकड़ में स्थित जंगल और पहाड़ की जमीन को बेचे जाने के मामले की जानकारी ली। डॉ. सिंह ने अधिकारियों को साफतौर पर कहा कि सरकारी जमीन को बेचे जाने में शामिल अधिकारियों और जमीन दलालों की जांच की जाए और उनके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई भी करें।
 
बैठक में मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने पूरे जिलेभर में अभियान चलाकर इस मामले की जांच करने के भी निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि डोंगरगढ़ के अलावा जिलेभर में सरकारी जमीनों को बेचे जाने की शिकायतें हैं और इन शिकायतों को प्रशासन को पूरी तरह गंभीरता से लेना होगा।
 
बैठक में कलेक्टर मुकेश बंसल ने बताया कि बागरेकसा में 55 एकड़ में स्थित बड़े झाड़ के जंगल को बेचे जाने की शिकायत पर जांच शुरू हो गयी है। वहीं गुडरी कनेरी गांव में भी करीब डेढ़ सौ एकड़ जंगल और पहाड़ की जमीन को बेचे जाने की शिकायतें मिली है। इसके अलावा डोंगरगढ़ के कुछ गांवों से भी इसी तरह की शिकायतें सामने आ रही है।
 
आगे की स्लाइड्स में पढिए, खबर से जुड़ी अन्य जानकारी - 
 
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
  • Post a comment
  • Name *
  • Email address *

  • Comments *
  • Security Code *
  • POXVO
  •       
    कमेंट्स कैसे लिखें !
    जिन पाठकों को हिन्दी में टाइप करना आता है, वे युनीकोड मंगल फोंट एक्टिव कर हिन्दी में सीधे टाइप कर सकते हैं। जिन्हें हिन्दी में टाइप करना नहीं आता वे Roman Hindi यानी कीबोर्ड के अंग्रेजी अक्षरों की मदद से भी हिन्दी में टाइप कर सकते हैं। उदाहरण के लिए यदि आप लिखना चाहें- “भारत डिफेंस कवच एक उपयोगी पोर्टल है’, तो अंग्रेजी कीबोर्ड से टाइप करें, bharat defence kavach ek upyogi portal hai. हर शब्द के बाद स्पेस बार दबाएंगे तो अंग्रेजी का अक्षर हिन्दी में टाइप होता चला जाएगा। यदि आप अंग्रेजी में अपने विचार टाइप करना चाहें तो वह विकल्प भी है।
    Haribhoomi
    Haribhoomi on Social Media
    फिल्म साइन करने से पहले बॉलीवुड स्टार्स की होती हैं ये शर्तें

    फिल्म साइन करने से पहले बॉलीवुड स्टार्स ...

    हर स्टार फिल्म साइन करते समय प्रोड्यूसर-डायरेक्टर के सामने कुछ शर्तें रखता है, ...

    ऐसा झटका, कहीं अपना मानसिक संतुलन न खो दें गोविंदा

    ऐसा झटका, कहीं अपना मानसिक संतुलन न खो ...

    फिल्म का बजट 22 करोड़ था लेकिन फिल्म ने दो दिनों में 50 लाख का कलेक्शन किया है।

    सिंगर अभिजीत ने कहा- तीनों खान हैं देशद्रोही, फिल्मों में बजावा रहे हैं मौला-मौला

    सिंगर अभिजीत ने कहा- तीनों खान हैं ...

    अभिजीत ने आगे कहा कि शिरीष जान बूझकर सिर्फ हिन्दुओं को ही टार्गेट करते हैं।