अजब गजब

बच्चों को 'होशियारी' मां से मिलती है बाप से नहीं: स्टडी

By haribhoomi.com | Oct 08, 2016 |
intelligence
वॉशिंगटन. बच्चों में इंटेलिजेंस का आना अकसर लोग पिता को मानते हैं। मां के द्वारा जीन का आना बहुत कम ही लोग मानते हैं। ऐसे में एक शोध किया गया की बच्चों में आखिर जीन का आना किसे जिम्मेदार मानते हैं।
 
ग्लासगो में वैज्ञानिकों के द्वारा शोध के बाद पता चला की एक माँ का आनुवंशिकी ही निर्धारित करता है कि उसके बच्चे कितने चतुर हैं, और यह सब पर पिता पर निर्भर नहीं है। इंटेलिजेंस जीन महिलाओं से उनके बच्चों में संचारित होते हैं क्योंकि महिलाओं में एक्स क्रोमोजोम होते हैं और वो भी दो, जबकी पुरुषों में ये क्रोमोजोम केवल एक ही होते हैं।
 
वैज्ञानिकों का भी यही मानना ​​है कि उन्नत संज्ञानात्मक कार्यों के लिए जीन जो पिता से विरासत में मिल रहे हैं वह स्वचालित रूप से निष्क्रिय हो जाते हैं। 'कंडीशन जीन', जीन की एक विशिष्ट श्रेणी है जो केवल कुछ ही मामलों में काम करती है यदि वे मां से आती हैं और अन्य मामलों में पिता से आती है। मां एक कैरियर का काम करती है जिसके पास यह विशिष्ट कंडीशन जीन होता है जिससे बच्चों में इंटेलिजेंस का संचार हो पाता है।
 
ग्लासगो में वॉशिंगटन विश्वविद्यालय में शोधकर्ताओं ने इंटेलिजेंस जीन की खोज के लिए अधिक से अधिक मानवीय दृष्टिकोण लिया। वे 1994 से 14 और 22 साल की उम्र के बीच 12,686 युवा लोगों का साक्षात्कार लिया। हालांकि, शोध से यह स्पष्ट हो जाता है कि आनुवंशिकी बुद्धि का ही निर्धारक नहीं हैं - बुद्धि का केवल 40 से 60 प्रतिशत वंशानुगत होने का अनुमान है, एक समान हिस्सा पर्यावरण पर निर्भर होता है।
 
वॉशिंगटन विश्वविद्यालय में शोधकर्ताओं ने शोध के बाद पाया कि एक माँ और बच्चे के बीच एक स्वस्थ भावनात्मक जुड़ाव मस्तिष्क के कुछ हिस्सों के विकास के लिए महत्वपूर्ण है। सात साल के लिए अपने बच्चों से संबंधित माताओं के एक समूह का विश्लेषण करने के बाद शोधकर्ताओं ने पाया कि भावनात्मक रूप से जुड़े बच्चों में पाया की उनका दिमाग अधिक सक्रिय, सीखने और तनाव की प्रतिक्रिया देने वाला है।
 
माँ के साथ एक मजबूत रिश्ता बच्चे को सुरक्षा की भावना देता है जो उन्हें दुनिया का पता लगाने के लिए अनुमति और समस्याओं को हल करने के लिए आत्मविश्वास देने का काम करता है। इसके अलावा, मां अपने बच्चों की समस्याओं को सुलझाने में मदद करती है और आगे उन्हें अपनी क्षमता तक पहुँचने के लिए मदद करती है।
 
शोधकर्ताओं ने यह भी निष्कर्ष निकाला है कि अंतर्ज्ञान और भावनाएं बुद्धि का विकास करने के लिए महत्वपूर्ण हैं जो एक पिता से अर्जित किया जाता है।
 
 
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
 
  • Post a comment
  • Name *
  • Email address *

  • Comments *
  • Security Code *
  • SFFXF
  •       
    कमेंट्स कैसे लिखें !
    जिन पाठकों को हिन्दी में टाइप करना आता है, वे युनीकोड मंगल फोंट एक्टिव कर हिन्दी में सीधे टाइप कर सकते हैं। जिन्हें हिन्दी में टाइप करना नहीं आता वे Roman Hindi यानी कीबोर्ड के अंग्रेजी अक्षरों की मदद से भी हिन्दी में टाइप कर सकते हैं। उदाहरण के लिए यदि आप लिखना चाहें- “भारत डिफेंस कवच एक उपयोगी पोर्टल है’, तो अंग्रेजी कीबोर्ड से टाइप करें, bharat defence kavach ek upyogi portal hai. हर शब्द के बाद स्पेस बार दबाएंगे तो अंग्रेजी का अक्षर हिन्दी में टाइप होता चला जाएगा। यदि आप अंग्रेजी में अपने विचार टाइप करना चाहें तो वह विकल्प भी है।
    Haribhoomi
    Haribhoomi on Social Media
    सिंगर बनी परिणीती चोपड़ा ने भी गाया गाना, देखें वीडियो

    सिंगर बनी परिणीती चोपड़ा ने भी गाया ...

    परिणीति का गाया हुआ पहला गाना ''माना के हम यार नहीं'' रिलीज हो गया है।

    सुनील ने सपोर्ट करने के लिए फैंस का किया धन्यवाद, लिखी भावुक पोस्ट

    सुनील ने सपोर्ट करने के लिए फैंस का ...

    सुनील ने अपने बेटे मोहन की सोते हुए एक फोटो पोस्ट की है।

    हाफ गर्लफ्रेंड में कुछ ऐसा रोमांस करते दिखेंगे श्रद्धा और अर्जुन, देखिए फर्स्ट लुक

    हाफ गर्लफ्रेंड में कुछ ऐसा रोमांस करते ...

    हाफ गर्लफ्रेंड का पहला पोस्टर जारी कर दिया गया है।