Breaking News
Top

1985 में एयर इंडिया की फ्लाइट में हुए ब्लास्ट का दोषी रिहा

haribhoomi.com | UPDATED Feb 16 2017 4:10PM IST
नई दिल्ली. एयर इंडिया के विमान कनिष्क में साल 1985 में हुए बम धमाके में दोषी ठहराए गए इंद्रजीत सिंह रेयत को रिहा कर दिया गया है। इस ब्लास्ट में 331 लोगों की मौत हो गई थी। 
 
 
in के मुताबिक, इंद्रजीत सिंह रेयत को जेल से रिहाई के बाद सुधार गृह में रखा गया था। करीब दो दशक तक सलाखों के पीछे रहने के बाद एक साल पहले ही रेयत को सुधार गृह भेजा गया था। कनाडा के पैरोल बोर्ड ने यह जानकारी दी। पेरोल बोर्ड के प्रवक्ता पैट्रिक स्टोरे ने बताया कि 'ये बंदिश अब हटा दी गई है और रेयत सामान्य जिंदगी जी सकता है, निजी आवास में भी रह सकता है'।
 
ये था पूरा मामला
इंद्रजीत सिंह को वैंकूवर से उड़ान भरने वाले दो विमानों में रखे गए बमों को बनाने और अदालत में सह आरोपी को बचाने के लिए झूठ बोलने का दोषी पाया गया था। एयर इंडिया की उड़ान 182- कनिष्क- में रखा पहला बम आयरलैंड में तट के पास फटा, जिससे विमान में सवार 329 लोगों की मौत हो गई थी।
 
 
दूसरा बम जापान के नारिता एयरपोर्ट पर उस वक्त फटा, जब दो कार्गो कर्मचारी सामान को एयर इंडिया के ही दूसरे विमान में रख रहे थे। इस धमाके में दोनों कर्मचारियों की मौत हो गई थी।
 
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo