Breaking News
Top

खुशखबरी: अब ये 500 ट्रेन आपको समय से पहले पहुंचाएंगी मंजिल पर

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Oct 20 2017 7:43PM IST
खुशखबरी: अब ये 500 ट्रेन आपको समय से पहले पहुंचाएंगी मंजिल पर

भारतीय रेलवे जल्द ही लंबी दूरी की करीब 500 ट्रेनों के यात्रा के समय में दो घंटे तक की कटौती करने जा रही है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि रेलवे के नवंबर के टाइमटेबल में नया समय अपडेट कर दिया जाएगा। 

इस महीने रेलवे मंत्री पीयूष गोयल से मिले निर्देशों के मुताबिक ऐसा किया जा रहा है। ‘इनोवेटिव टाइमटेबलिंग’ प्रयास के तहत ट्रेनों के यात्रा के समय को 15 मिनट से लेकर 2 घंटे तक घटाया जा रहा है। 

नया टाइमटेबल हर रेलवे डिविजन को मेनटेनेंस के लिए भी 2 से 4 घंटे तक का समय मुहैया कराएगा। अधिकारी के मुताबिक लंबी दूरी की ऐसी ट्रेनें जो अपने गंतव्य तक पहुंचने के बाद लौटने का इंतजार करती हैं, उनका उस अवधि में भी इस्तेमाल किया जाएगा। 

इसे भी पढ़ें -ट्रेनों की बदबू से परेशान रेल मंत्री, जल्दी करेंगे ये बड़ा उपाय

अधिकारी के मुताबिक नए टाइमटेबल में करीब 50 ट्रेनों को ऐसे ही चलाया जाएगा। उन्होंने दावा किया कि 51 ट्रेनों के यात्रा के समय में तुरंत एक से 3 घंटे तक की कमी आएगी। अधिकारी के मुताबिक आगे चलकर ऐसा करीब 500 ट्रेनों के साथ होगा। 

रेलवे ने इंटरनल ऑडिट भी शुरू किया है। इसके जरिए 50 मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों को सुपर-फास्ट सर्विस में अपग्रेड किया जाएगा। अधिकारी के मुताबिक देश में ट्रेनों की औसत गति को बढ़ाने के लिए की जा रही कवायदों का यह भी एक हिस्सा है। 

भोपाल-जोधपुर एक्सप्रेस जैसी ट्रेन अपने समय से 95 मिनट पहले पहुंचेगी। इसी तरह 2330 किमी दूरी तय करने वाली गुवाहाटी-इंदौर स्पेशल नए टाइमटेबल में 115 मिनट कम समय लगाएगी। गाजीपुर-बांद्रा टर्मिनस एक्सप्रेस 1929 किमी की अपनी यात्रा को 95 मिनट पहले पुरा कर लेगी। 

इसे भी पढ़ें -मुंबई भगदड़: पियूष गोयल ने की रेलवे बोर्ड की मीटिंग, शिवसेना ने मांगा रेल मंत्री का इस्तीफा

रेलवे स्टेशनों पर ट्रेनों के हाल्ट टाइम में भी कमी करेगी। इसके अलावा ऐसे स्टेशनों पर ट्रेनों का ठहराव बंद होगा जहां यात्रियों की संख्या कम है।  इसके अलावा रेलवे ट्रैक और इन्फ्रास्ट्रक्टचर को अपग्रेड करने अलावा ऑटोमैटिक सिग्नलिंग पर भी काम होगा। 

इसका भी ट्रेनों के समय पर असर पड़ेगा। अधिक सुरक्षित लिंक-हॉफमैन-बुश कोचों के लगाने से भी ट्रेनों की गति तेज होगी। यह खास कोच ट्रेनों को 130 किमी प्रति घंटे तक की स्पीड के लिए बेहतर है। रेलवे पर्मानेंट स्पीड रिस्ट्रिक्शन का रीव्यू भी कर रही है।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo