Breaking News
Top

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा- देश में 99 फीसदी गरीबों के पास बैंक अकाउंट

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Sep 14 2017 12:24AM IST
वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा- देश में 99 फीसदी गरीबों के पास बैंक अकाउंट

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बुधवार को कहा कि पिछले तीन साल में जन धन योजना के तहत 30 करोड़ परिवारों के बैंक खाते खोले गए हैं।      

जेटली ने वित्तीय समावेश पर एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि इस योजना की शुरुआत से पहले करीब 42 प्रतिशत परिवार बैंक सेवा से जुड़े हुए नहीं थे।

उन्होंने कहा कि जन धन योजना बैंक खाते खोलने की देश की सबसे बड़ी मुहिम है। इसका लक्ष्य सभी व्यावसायिक बैंकों में शून्य जमा अधिशेष पर खाते खोलकर प्रत्येक परिवार को बैंकिंग प्रणाली से जोड़ना था।       

जेटली ने कहा कि शून्य जमा अधिशेष वाले बैंक खातों का अनुपात 77 प्रतिशत से कम होकर 20 प्रतिशत रह गया है।

99.99 फीसदी परिवारों के पास बैंक खातें       

प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण सुविधा का विस्तार होने से ये बैंक खाते भी परिचालन में आ जाएंगे। उन्होंने कहा कि योजना की शुरुआत के तीन महीने बाद सितंबर 2014 में 76.81 प्रतिशत खातों में जमा राशि शून्य थी। अब इस तरह के खाते कम होकर 20 प्रतिशत रह गए हैं।       

उन्होंने जन धन योजना को श्रेय देते हुए कहा कि अब 99.99 प्रतिशत परिवारों के पास कम से कम एक बैंक खाता हैं।       

आधार को भाजपा ने दिलाई विधाई मजबूती

आधार के बारे में जेटली ने कहा कि यह संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार के समय एक उभरता हुआ विचार भर था। इसे विधाई मजबूती नहीं मिली थी। भारतीय जनता पार्टी की सरकार में इस संबंध में विधेयक पारित हुआ है। मंत्री अरुण जेटली ने भरोसा जताते हुए कहा कि आधार कानून वैधानिकता के पैमाने पर खरा उतरेगा।

आंकड़ों की सुरक्षा के पर्याप्त उपाय

वित्त मंत्री ने कहा कि इसमें आंकड़ों की सुरक्षा के पर्याप्त उपाय निहित हैं।  जेटली की यह टिप्पणी ऐसे समय में आई है जबकि आधार को सरकारी योजनाओं तथा पैन कार्ड से अनिवार्य रूप से जोड़ने को उच्चतम न्यायालय में चुनौती दी गई है। 

इस मामले की अगली सुनवाई नवंबर में होगी। आधार के बारे में जेटली ने कहा, भारतीय जनता पार्टी की सरकार में इसे कानूनी संरक्षण मिला है और निजता एवं आंकड़ों की सुरक्षा सुनिश्चित की गयी है।

वैधानिकता पर आधार खरा उतरेगा

जेटली ने कहा कि आंकड़ों की गोपनीयता पर बहस तथा इनकी सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए एक कानून की आवश्यकता थी। आधार विधेयक पारित हो चुका है और मुझे यकीन है कि यह वैधानिकता के पैमाने पर खरा उतरेगा।  

पिछले महीने उच्चतम न्यायालय की नौ सदस्यीय संवैधानिक पीठ ने निजता के अधिकार को मौलिक अधिकार करार दिया था।

संवैधानिक गारंटी बताया

न्यायालय ने कहा था कि यह धारा 21 के तहत जीने के अधिकार और निजी स्वतंत्रता का अभिन्न हिस्सा है। जेटली ने आगे कहा कि शीर्ष अदालत ने अपने हालिया फैसले में निजता के अधिकार को महत्वपूर्ण संवैधानिक गारंटी बताते हुए विचारणीय प्रतिबंधों की बात की थी।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
30 crore families bank accounts opened in last three years says arun jaitley

-Tags:#Arun Jaitley#Bank Accounts#Jan Dhan Yojana#Financial Inclusion
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo