Hari Bhoomi Logo
शुक्रवार, सितम्बर 22, 2017  
Breaking News
Top

नहीं मिली एबुंलेंस, 20 किमी पैदल चलकर मां ने खड़े-खड़े दिया नवजात को जन्म, नीचे गिरकर मौत

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Aug 1 2017 12:20PM IST
नहीं मिली एबुंलेंस, 20 किमी पैदल चलकर मां ने खड़े-खड़े दिया नवजात को जन्म, नीचे गिरकर मौत

भोपाल के बरही में एक मां ने अपने नवजात बच्चे की जान इस वजह से गंवा दी कि उसे समय पर एबुंलेंस की सुविधा नहीं मिल पाई। दरअसल, बरही मुख्यालय से करीब 50 किलोमीटर दूर एक महिला का सड़क पर प्रसव हो गया, बच्चे के नीचे गिर जाने की वजह से मौत हो गई। 

पीड़ित महिला का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। महिला के परिजन का आरोप है कि प्रसव के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बरही ले जाने के लिए उसके पति द्वारा स्वास्थ्य केन्द्र में करीब डेढ घंटे तक गिड़-गिड़ाने के बाद भी उसे एंबुलेंस नहीं मिल पाई।

इसे भी पढ़ेंः मां ने 5 हजार रुपए के लिए बेची नवजात बच्ची, वजह थी गरीबी

उन्होंने दावा किया कि प्रसव पीड़ा के दौरान बीना बाई को जब एंबुलेंस लेने उसके घर नहीं पहुंची, तो वह पैदल ही सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बरही की ओर चल पड़ी। इस बीच, उसका पति बरही में एम्बुलेंस के लिए फरियाद करता रहा। 

बरमानी गांव से सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बरही की दूरी लगभग 20 किलोमीटर है। परिजन ने बताया कि जैसे ही महिला बरही पुलिस थाने के पीछे वाली सड़क पर पहुंची। उसे प्रसव हो गया और नवजात बच्ची की जमीन में गिरने से मौत हो गई।

इसे भी पढ़ेंः धरती पुत्रः मध्य प्रदेश में एक फुट जमीन के नीचे मिला नवजात

हालांकि, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी अशोक अवधिया ने बताया कि इस महिला ने समय से पूर्व सातवें महीने में ही बच्ची को जन्म दिया था। परिजन द्वारा एंबुलेंस न मिलने के आरोप पर अवधिया ने कहा कि सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बरही में एंबुलेंस नहीं है और जननी एक्सप्रेस नाम से चलने वाली 108 एंबुलेंस हमारे अधिकार में नहीं है। इसे भोपाल से उपलब्ध कराया जाता है। उन्होंने कहा कि इस घटना की जांच के आदेश दे दिए गए हैं और यदि कोई दोषी पाया जाता है, तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
after not getting ambulance women walk 20 km delivers baby on road in madhya pradesh

-Tags:#Madhya Pradesh News#Ambulance
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo