Breaking News
Top

भोपाल गैंगरेप: महिला आईपीएस से पूछा सवाल, जवाब में कहा- मेरा सिरदर्द करने लगा है

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Nov 5 2017 10:47AM IST
भोपाल गैंगरेप: महिला आईपीएस से पूछा सवाल, जवाब में कहा- मेरा सिरदर्द करने लगा है

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में कोचिंग से घर लौट रही छात्रा के साथ गैंगरेप के तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया गया है। इस मामले में एक महिला आईपीएस के जवाब ने विवाद को और बढ़ा दिया है। 

गैंगरेप से पीड़ित छात्रा को भोपाल पुलिस के अफसरों अलग अलग थानों के चक्कर कटवाए। वहीं दूसरी तरफ पीड़ित छात्रा की महिला आईपीएस अधिकारी ने भी उसकी मदद नहीं की। 

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, जब मीडिया ने गैंगरेप की घटना को लेकर इस महिला अधिकारी से एक सवाल पूछा तो वो ठहाका लगाते हुए कहा कि इस बारे में पूछे गए सवालों से मेरा सिरदर्द करने लगा है। बता दें कि इनका नाम अनिता मालवीय है। और 2009 बैच की आईपीएस अधिकारी हैं। 

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के हबीबगंज इलाके में यूपीएससी की कोचिंग कर रही एक 19 वर्षीय छात्रा के साथ 4 लोगों ने सामूहिक बलात्कार किया। छात्रा के साथ आरोपियों ने इस कदर हैवानियत दिखाई कि वो कई घंटों तक झाड़ियों में बेहोश पड़ी रही थी। 

बता दें कि पीड़ित छात्रा विदिशा की रहने वाली है। वो एमपी नगर जोन-2 में स्थित एक संस्थान से यूपीएससी की कोचिंग ले रही है। जानकारी के मुताबिक, 31 अक्टूबर की शाम वह कोचिंग से हबीबगंज स्टेशन की तरफ पैदल जा रही थी। तभी कुछ बदमाशों ने उसका रास्ता रोक लिया और उसका मुंह दबाकर उसे एक छोटी पुलिया के नीचे झाड़ियों में ले गए।

वारदात के बाद जब छात्रा को होश आया तो वह किसी तरह से हबीबगंज आरपीएफ थाने पहुंची। पिता को फोन कर पूरी घटना बताई। इसके बावजूद पुलिस ने घटना को गंभीरता से ना लेते हुए मामला दर्ज नहीं किया। 

पीड़िता एक थाने से दूसरे थाने अपनी रिपोर्ट लिखाने के लिए चक्कर काटती रही। लेकिन किसी भी अधिकारी ने उसकी नहीं सुनी। जिसके बाद इस मामले ने तूल पकड़ लिया और 6 पुलिस अधिकारियों पर भी गाज गिर गई है। 

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
bhopal rape case lady ips was laughing accused

-Tags:#Bhopal#Gangrape#IPS Women#Crime
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo