Breaking News
Top

आखिर क्यों एक से अधिक ब्वॉयफ्रेंड बनाती हैं लड़कियां

haribhoomi.com | UPDATED Jan 11 2017 5:50PM IST
नई दिल्ली. आमतौर पर एक से अधिक गर्लफ्रेंड बनाने के मामले में लड़के सबसे आगे रहते हैं। लेकिन एक से अधिक ब्वॉयफ्रेंड बनाने में लड़कियां भी लड़कों से कम नहीं हैं। लड़कों की दूसरी गर्लफ्रेंड बनाने के पीछे कई कारण होते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं आखिर लड़कियां क्यूं बनाती हैं 1 से अधिक ब्वॉयफ्रेंड। चलिए बताते हैं...
 
 
कुछ लोगों का कहना है कि लड़कियों में कॉन्फिडेंस ही नहीं बल्कि उनमें ओवरकॉन्फिडेंस होता है। जिसकी वजह से उन्हें लगता है कि एक से अधिक ब्वॉयफ्रेंड बनाना बेहद आसान है। तो वहीं कुछ लड़कियों का मानना है कि वह खुद की सेफ्टी के लिए एक से अधिक ब्वॉयफ्रेंड बनाती हैं। उन्हें लगता है कि सुरक्षा की दृष्टि से एक पर भरोसा करना काफी मुश्किल है।  कई लड़कियां ऐसी होती हैं जो किसी लड़के के साथ रिलेशन में तो आ जाती हैं लेकिन उसपर ट्रस्ट करना और उनके साथ कंफर्टेबल महसूस करना उनके लिए थोड़ा मुश्किल होता है। जिसकी वजह से वह ऐसा कदम उठाती हैं जिससे उन्हें एक सच्चा और विश्वास करने वाला पार्टनर मिल जाए। 
 
दरअसल, इस बारे में हमने कई तरह के डिफरेंट लोगों से बात की। कुछ लोगों का कहना है कि कुछ लड़कियां अपने ब्वॉयफ्रेंड को लेकर गंभीर तो रहती हैं लेकिन अपनी ख्वाहिशों और अपनी उम्मीदों का भार उसपर थोपना नहीं चाहती हैं, इसलिए वह एक से अधिक ब्वॉयफ्रेंड रखती हैं। तो वहीं कुछ ने कहा कि लड़कियों की डिमांड बहुत अधिक होती है। वह अपनी अलग-अलग डिमांड को अलग-अलग ब्वॉयफ्रेंड से पूरा करवाती हैं। 
 
 
कई बार ब्वॉयफ्रेंड का गलत व्यवहार भी गर्लफ्रेंड को दूसरा ब्वॉयफ्रेंड बनाने पर मजबूर कर देता है। बता दें कि अधिकांश लोगों का एक ही कहना है कि एक लड़का अपनी गर्लफ्रेंड की सारी आवश्यकताओं को पूरा नहीं कर सकता है। अपनी आवश्यकताओं को पूरा कराने के उद्देश्य से ही लड़कियां एक से अधिक ब्वॉयफ्रेंड बनाती हैं। 
 
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo