Breaking News
Top

2017: इस साल खिचड़ी को मिला 'ब्रैंड इंडिया फूड' का दर्जा, जानिए खिचड़ी के अलग-अलग नाम

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Dec 5 2017 6:19PM IST
2017: इस साल खिचड़ी को मिला 'ब्रैंड इंडिया फूड' का दर्जा, जानिए खिचड़ी के अलग-अलग नाम

साल 2017 बीतने को है। इस साल व्यंजन में खिचड़ी प्रमुख रूप से छाई रही। ऐसा इसलिए क्योंकि वर्ल्ड फूड इंडिया में खिचड़ी को 'ब्रैंड इंडिया फूड' के रूप में प्रस्तुत किया गया था।

इतना ही नहीं वर्ल्ड फूड इंडिया में 800 किलो खिचड़ी के साथ गिनीज रिकॉर्ड भी बना। जानिए अलग-अलग जगहों पर खिचड़ी को और किस नाम से जानते हैं।

ये हैं खिचड़ी के नाम

इटली में रिसोतो: मछली, गोश्त, सब्जियों और क्रीम की ग्रेवी के साथ चावल से बनी डिश

स्पेन में पाएला: चावल, चिकन, मछली, हरी सब्जियां, केसर, बींस और रोजमेरी से बनी डिश

मिस्र में कोशारी: चावल, मैक्रोनी, दाल, तला हुआ प्याज, चना, टमाटर सॉस और लहसुन के विनेगर से बनी डिश

हिमाचल प्रदेश में बाली: चावल, काले चने, राजमा और छांछ से बनी डिश को देशी घी और भुनी धनिया के तड़के के साथ

आंध्र प्रदेश में कीमे की खिचड़ी: चावल, दाल, कीमे और खड़े मसालों से तैयार डिश

कर्नाटक में बिसी बेले भात: दाल, चावल, मौसमी सब्जियों और इमली से बनी डिश

उत्तराखंड में घढ़वाली खिचड़ी: चावल, उड़द की दाल, राई और मसालों से बनी घढ़वाली खिचड़ी

यह भी पढ़ें: होटल के कमरे में अनमैरिड कपल का साथ रहना गलत नहीं, जानें ऐसे ही कई अधिकार

राजस्थानी खिचड़ी: अलग-अलग दालों और खड़े मसालों को मिलाकर बनने वाली राजस्थानी खिचड़ी में चावल की जगह गेहूं या बाजरे का यूज होता है

महाराष्ट्र में वलाची खिचड़ी: चावल, मूंग की दाल, बींस, मूंगफली और खड़े मसालों से बनी डिश

गुजराती खिचड़ी: चावल, हल्दी, नमक और खड़े मसालों से बनी डिश को मीठी नीम, राई व हींग के तड़के से तैयार खिचड़ी को बेसन की कढ़ी के साथ खाया जाता है

पश्चिम बंगाल में खिचुड़ी: चावल और मूंग की दाल से बनी खिचुड़ी हल्की मीठी होती है। बंगाल में इसे लोग तली हुई मछली, बैगन भाजा और हरी सब्जियों के साथ खाते हैं

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
different names of khichdi as brand india food

-Tags:#Happy New Year 2018#Khichdi#Recipe
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo