Hari Bhoomi Logo
शनिवार, अप्रैल 29, 2017  
Breaking News
Top

चीन विरोध के 10 देसी तरीके

haribhoomi.com | UPDATED Apr 3 2016 4:52PM IST

नई दिल्ली. चीन-भारत का पड़ोसी देश है इसके बावजुद भी भारत-चीन के संबंध हमेशा से ही खराब रहे हैं। चीन भारत के इलाके हड़पने के लिए हमेशा से ही कोशिश करता रहा है। इसी तनाव की वजह से कई बार दोनों देशों के बीच युद्ध हुए तो कई बार युद्ध होने की स्थिती उत्पन्न हुई। इस कड़वाहट को दूर करने के लिए 'हिंदी-चीनी भाई-भाई' का नारा भी दिया गया, लेकिन नतीजा 'निकला ढाक के तीन पात'।

चीन दुनिया को सबसे सस्ते दाम में इलेक्ट्रानिक चीजें उपलब्ध कराने वाला देश है। यही कारण है कि दुनिया भर में चीन के समान का उपभोग किया जाता है और इसी कारण चीन तेजी से विकास करने वाला देश बन गया है। चीन के सामान को सबसे ज्यादा भारत में ही खरीदा जाता है। इसकी वजह सामान का सस्ता होना है। लेकिन ये बहुत कम लोग ही जानते हैं कि चीन अपने प्रोडक्ट बनाने में सस्ती चीजों का प्रयोग करता है, इसी वजह से उसके प्रोडक्ट सस्ते दाम पर बाजार में उपलब्ध होते हैं। चीन के सामानों के लिए एक कहावत भी प्रचलित है 'चले तो चाँद तक, न चले तो शाम तक'। हम आपको चीन का बहिष्कार करने के लिए एक सरल उपाय बताते हैं। आप चीन के सामानों का देसी तरीकों से विरोध करें।

चलिए जानते हैं चीन का विरोध करने के 10 देसी तरीके-  

  ऐसी की जगह पर पेड़ के नीचे बैठें और हाथ के पंखे का इस्तेमाल करें।

टैबलेट/आइपैड की तो कोई जरुरत ही नहीं है।

घड़ी की जगह पर दूसरों से वक्त पूछें ।

बल्ब की जगह पर दिया मशाल जलाएं ।

कम्प्यूटर की जगह पर ऊँगली से गिनें या हाथ से लिखें या लाला जी की बही यूज करें ।

आगे की स्लाइड्स में पढ़िए, खबर से जुड़ी अन्य जानकारियां- 
 
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo