Breaking News
इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने नवाज शरीफ और मरियम का बेल रिजेक्ट कियापंजाब पुलिसमैन की शर्मनाक करतूत, बहादुर महिला ने पुलिस को पेड़ से बांधकर पीटासर्वदलीय बैठक में PM ने कहा- विपक्ष के साथ हर मुद्दे पर चर्चा को तैयार, सकारात्मक रूख अपनाएं विपक्षी दलमनचले को लड़की ने पीटा, कहा- खुद को डोनालंड ट्रप की औलाद मत समझोसिक्यूरिटी गार्ड, लिफ्ट ऑपरेटर समेत 18 लोगों ने नाबालिग का 7 माह तक किया यौन उत्पीड़न, हिरासत में लेकर जांच जारीमहागठबंधन में PM उम्मीदवार को लेकर तानाकशी, राहुल गांधी पर टिप्पणी करने पर मायावती ने लिया बड़ा एक्शनसुपीम कोर्ट ने केंद्र और राज्य सरकारों को दिया आदेश, लिंचिंग पर बनाएं कानूनकुलभूषण जाधव मामले में आज ICJ में अपना हलफनामा करेगा दाखिल
Top

आधार से राशन कार्ड लिंक न होने पर नहीं मिला अनाज, मां ने कहा- "बेटी भात-भात कहते मर गई"

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Oct 17 2017 1:27PM IST
आधार से राशन कार्ड लिंक न होने पर नहीं मिला अनाज, मां ने कहा-

आज तमाम तरह की सेवाएं हैं, जिन्हें पाने के लिए आधार कार्ड को लिंक करवाना अनिवार्य हो गया है। लेकिन आधार कार्ड को लिंक न कराना लोगों के लिए मुसीबत बन गया है, इसकी वजह से लोगों की जाने भी जा रही हैं।

ताजा मामला झारखंड का है, यहां सिमडेगा जिले में 11 साल की मासूम को आधार कार्ड के कारण अपनी जान गंवानी पड़ी। बच्ची के परिवार का राशन कार्ड आधार से लिंक न होने की वजह से इन्हें राशन नहीं मिला और बच्ची की भूख से तड़प-तड़प कर मौत हो गई। 

इसे भी पढ़ें- अब इन जरूरी स्कीमों का लाभ उठाने के लिए आधार कार्ड अनिवार्य

जानकारी के मुताबिक, पीड़ित परिवार का राशन कार्ड आधार से लिंक न होने पर पीडीएस स्कीम के तहत गरीबों को मिलने वाला अनाज पीड़ित परिवार को नहीं मिला, हालात इतने खराब हो गए की घर में खाने के लाले पड़ गए और मासूम संतोषी कुमारी की जान चली गई।

पीड़िता की मां ने बताया कि जब मैं राशन की दुकान पर राशन लेने गई तो उन्हेंने राशन देने से मना कर दिया और मेरी बेटी भूख के कारण भात-भात कहते मर गई। घटना की जानकारी खाद्य सुरक्षा के लिए काम करने वाली संस्था को दी गई है।

इसे भी पढ़ें- ये हैं आधार कार्ड से संबंधित 4 जरूरी डेडलाइन्स, पढ़ लें वरना होगी मुश्किल

संस्था के मुताबिक 28 सितंबर को बच्ची की मौत इसलिए हुई क्योंकि पिछले 8 दिन से उसके घर में अनाज नहीं था। मामला सामने आने के बाद जलगेड़ा गांव के प्रखंड विकास अधिकारी संजय कुमार का कहना है कि बच्ची की मौत भूख से नहीं मलेरिया से हुई है। लेकिन उन्होंने इस बात को माना है कि पीड़ित परिवार का राशन कार्ड आधार से लिंक नहीं था, जिसके चलते उन्हें फरवरी से राशन नहीं मिल रहा था। 

ADS

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
no aadhaar linked ration card girl died due to hunger

-Tags:#Ranchi#Crime News#Aadhar Ration Card Link

ADS

ADS

मुख्य खबरें

ADS

ADS

ADS

ADS

Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo